Tea

आपकी नियमित चाय (Tea) में स्वाद और सेहत को घोलने के लिए हमारे पास 8 अनोखे तरीके हैं

आपकी नियमित चाय (Tea) में स्वाद और सेहत को घोलने के लिए हमारे पास 8 अनोखे तरीके हैं

चाय का हर घूंट अपना अलग स्वाद, अलग एहसास लेकर आता है। अपने लिए चाय बनाने की आदत डालें, हम आपको बाकी हेल्थ फॉर्मूला दे रहे हैं।

चाय (Tea) दुनिया भर में एक लोकप्रिय पेय है, लेकिन भारतीयों के पास सुबह चाय नहीं होती है। यह हमारे लिए जीवन का अभिन्न अंग है। चाय एक ऐसा पेय है जो गरीब से लेकर अमीर तक सभी को पसंद आता है और सभी के लिए सुलभ भी है।

पिछले कुछ वर्षों में भारत में चाय (Tea)  की लोकप्रियता में काफी वृद्धि हुई है। टी बोर्ड ऑफ इंडिया के 2007 के एक अध्ययन के अनुसार, भारत में उत्पादित कुल चाय का लगभग 80% घरेलू आबादी द्वारा उपभोग किया जाता है। साथ ही, चाय पानी के बाद दुनिया में दूसरा सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला पेय है।

अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस 2021

चाय व्यापार ने श्रमिकों और किसानों को कैसे प्रभावित किया है, इस पर प्रकाश डालने के लिए अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस को दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस के रूप में मनाया जाता है। विश्व चाय उद्योग में एशियाई देशों की प्रगति को देखते हुए, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 मई को अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस के रूप में घोषित किया।

वर्ष 2019 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने हर साल 21 मई को अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस मनाने का फैसला किया।

ये भी देखे:- Gmail ई-मेल यूजर्स के लिए आज ही करें तैयारी, 1 जून से बदलने जा रहा है ये नियम…

अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस का महत्व

अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस का उद्देश्य दुनिया भर में चाय के लंबे इतिहास, सांस्कृतिक और आर्थिक महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। दिन का उद्देश्य स्थायी चाय उत्पादन और खपत के समर्थन में पहल करने के लिए सामुदायिक पहल को बढ़ावा देना और उसका पोषण करना है। साथ ही भूख और गरीबी के खिलाफ लड़ाई में चाय की प्रासंगिकता के बारे में जागरूकता फैलानी होगी।

बीस हजार तरह की चाय

आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया भर में 20 हजार से भी ज्यादा तरह की चाय हैं। लेकिन भारत में ज्यादातर लोग दूध वाली चाय पीना पसंद करते हैं लेकिन यह उतनी सेहतमंद नहीं होती। तो क्या करें? हम चाय पीना नहीं छोड़ सकते, लेकिन चिंता न करें, क्योंकि हम आपके लिए कुछ ऐसी हेल्दी चाय लेकर आए हैं, जो आपको स्वाद और सेहत दोनों देगी।

ये भी देखे :- IT मंत्रालय ने सभी Social Media प्लेटफॉर्म को नोटिस भेजकर पूछा- नियम का पालन क्यों नहीं किया?

1. हरी चाय

ये चाय की पत्तियां सबसे कम ऑक्सीकृत होती हैं और इसलिए इनसे बनी चाय का रंग हल्का होता है। सभी चायों में, इसमें एंटीऑक्सिडेंट की उच्चतम सांद्रता होती है। यह चाय आपके पाचन तंत्र से लेकर आपके फेफड़ों तक सभी के लिए अच्छी है।

2. अदरक की चाय

सुबह की शुरुआत करने का सबसे अच्छा तरीका है अदरक की चाय पीना! यह एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर है, जो सूजन को कम कर सकता है और आपके दिल को स्वस्थ रख सकता है। इसके और भी कई फायदे हैं-

दर्द को स्वाभाविक रूप से कम करें
शांत हो जाएं
कब्ज दूर करे

3. नींबू चाय

लेमन टी बनाने में आसान और स्वादिष्ट होती है। यह आपकी रक्त वाहिकाओं से पट्टिका को हटाता है। साथ ही दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है। यह मूड में भी सुधार करता है यदि आप अवसाद या चिंता से पीड़ित हैं या आपका दिन अच्छा नहीं चल रहा है।

चाय में स्वाद और सेहत घोलने के कुछ अनोखे तरीके

  • पानी में चाय की पत्ती डालकर ज्यादा उबाले नहीं। इससे भोजन नली का कैंसर हो सकता है।
  • कभी-कभी ब्राउन ब्राउन टी की जगह ब्लैक टी को अपनी सुबह रख लें। यह आपको पाचन संबंधी समस्याओं से बचाएगा।
  • चाय को उबलते पानी में डालने से पहले औषधीय जड़ी-बूटियां जैसे तुलसी, अदरक, इलायची और दालचीनी मिलाएं। यह आपको मौसमी संक्रमण से बचाएगा।
  • पीरियड्स आने पर चाय में अदरक का एक टुकड़ा मिलाएं। इससे आपको पेट में ऐंठन से राहत मिलेगी।
  • अगर आप डायबिटीज और रूखी त्वचा से बचना चाहते हैं तो चाय में चीनी मिलाने की आदत छोड़ दें।
  •  एक महीने के अंदर ही आपको इसका असर दिखने लगेगा। अगर आप मीठा खाने के शौकीन हैं तो चाय में शहद या गुड़ मिलाएं। लेकिन चाय बनाने के बाद।
  • इससे आपका शुगर लेवल नहीं बढ़ेगा और त्वचा में भी निखार आएगा। अगर आपको पेट दर्द या गैस की समस्या है तो चाय में थोड़ा सा अजवाइन मिला लें।
  •  यह आपको एक अलग स्वाद के साथ पेट दर्द से भी निजात दिलाएगा। और सबसे महत्वपूर्ण बात, चाय के लिए छोटे कप खरीदें। आराम से चाय पिएं। हर घूंट में इसका अलग स्वाद होगा।

पेट को black fungus से बचाएगा तुलसी-नीम का रस, ऐसे लें सेवन

Leave a Reply

Your email address will not be published.