Vaccination

राज्यों के पास स्टॉक नहीं है, 1 मई से 18+ उम्र के लोगों को Vaccination लगने पर ग्रहण

राज्यों के पास स्टॉक नहीं है, 1 मई से 18+ उम्र के लोगों को Vaccination लगने पर ग्रहण

न्यूज़ डेस्क:- 1 मई से, टीकाकरण (Vaccination) 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी के लिए खुला होगा। लेकिन इस मिशन पर ग्रहण दिखाई दे रहा है, क्योंकि कई राज्य सरकारों ने कहा है कि उनके पास पर्याप्त टीका उपलब्ध नहीं है।

कोरोना के प्रकोप को रोकने के लिए टीकाकरण (Vaccination)  का अभियान जारी है। यह अभियान 1 मई से नई गति प्राप्त करने जा रहा है। 1 मई से, टीकाकरण 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी के लिए खुला रहेगा। लेकिन इस मिशन पर ग्रहण दिखाई दे रहा है, क्योंकि कई राज्य सरकारों ने कहा है कि उनके पास पर्याप्त टीके उपलब्ध नहीं हैं। ऐसे में हर जगह टीकाकरण मुश्किल है। वहीं, केंद्र सरकार का कहना है कि राज्य सरकारों के पास एक करोड़ से ज्यादा वैक्सीन उपलब्ध हैं।

1 मई से शुरू होने वाले नए चरण के टीकाकरण के संबंध में, केंद्र सरकार का कहना है कि राज्य, केंद्र शासित प्रदेशों में अभी भी 1 करोड़ टीके बचे हैं। जबकि अगले तीन दिनों में 80 लाख खुराक पहुंच रही है। भारत सरकार ने अब तक राज्यों को 15.65 करोड़ टीके मुफ्त में प्रदान किए हैं।

ये भी पढ़े:- भारत में गहराते Corona संकट पर एक्शन मोड में विदेशी दोस्त, मदद पहुंची, जानिए किसने क्या दिया

केंद्र सरकार के अनुसार, अब तक राज्यों ने कुल 14.64 करोड़ खुराक का उपयोग किया है। ऐसी स्थिति में एक करोड़ खुराक बची है और अगले तीन दिनों में राज्यों को 80 लाख से अधिक खुराक दी जाएगी।

वैक्सीन पर केंद्र के राज्यों को ये निर्देश

टीकाकरण (Vaccination) को लेकर केंद्र सरकार की ओर से राज्यों को पत्र लिखा गया है। इसमें केंद्र ने कहा है कि वैक्सीन स्टॉक का इस्तेमाल इस तरह से किया जाना चाहिए ताकि 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन की नई आपूर्ति मिल सके। जो आपूर्ति सीधे राज्यों को प्राप्त हो रही है, उसका उपयोग 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए किया जाना चाहिए।

केंद्र का कहना है कि वैक्सीन निर्माताओं से आधी आपूर्ति केंद्र को दी जाएगी, जिसे राज्यों द्वारा केंद्र को वितरित किया जाएगा। ऐसी स्थिति में, केंद्र द्वारा राज्यों को दी जा रही आपूर्ति का उपयोग 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए किया जाना चाहिए, जैसा कि अभी हो रहा है।

कई राज्यों ने अपनी समस्याएं गिनाईं

महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, राजस्थान, झारखंड, ओडिशा जैसे कई राज्यों ने वैक्सीन की कमी का मुद्दा उठाया है, जबकि कुछ स्थानों पर टीकाकरण (Vaccination) का ठहराव हुआ है। टीकाकरण के नए चरण के बारे में, राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा का कहना है कि हमारे राज्य में 18-45 की उम्र के बीच कुल 3.25 करोड़ लोग हैं, ऐसी स्थिति में, सात करोड़ वैक्सीन खुराक की जरूरत है। हमारी सरकार ने अब तक 3.75 करोड़ टीके बुक किए हैं, लेकिन सीरम इंस्टीट्यूट का कहना है कि वे 15 मई से पहले नहीं दे सकते हैं। ऐसे में हम टीकाकरण कैसे शुरू करते हैं।

ये भी पढ़े:- अब आपके घर पर ATM आएगा, आपको कैश निकालने के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा

राजस्थान की तरह, महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि उन्होंने अपने राज्य के लिए दोनों कंपनियों से संपर्क किया है, उन्हें लगभग 12 करोड़ खुराक चाहिए। हमने अपनी मांगों को दोनों कंपनियों के सामने रखा है, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। ऐसी स्थिति में, एक मई से टीकाकरण शुरू होने पर संदेह है। महाराष्ट्र, राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़ के अलावा, यह भी कहा है कि समय पर टीका की आपूर्ति नहीं है।

किस राज्य के पास कितना स्टॉक बचा है?

महाराष्ट्र द्वारा वैक्सीन की कमी की शिकायत पर केंद्र सरकार का कहना है कि अभी तक महाराष्ट्र को 1.58 करोड़ खुराक दी गई है, जिसमें से उन्होंने 1.49 करोड़ का उपयोग किया है। अभी महाराष्ट्र में 9 लाख से अधिक खुराक हैं और अगले तीन दिनों में तीन लाख अधिक पहुंच रहे हैं।

दिल्ली को अब तक 34 लाख टीके मिले हैं, जिनमें से 31 लाख का इस्तेमाल किया गया है। दिल्ली में 3 लाख बचे हैं और अगले तीन दिनों में साढ़े तीन लाख और मिलने हैं। राजस्थान में 3.13 लाख वैक्सीन की खुराक बची है, जबकि चार लाख मिलनी हैं। वहीं, यूपी में 10 लाख डोज बचे हैं और 11 लाख डोज मिलने वाले हैं।

इन राज्यों के अलावा अगर हम गुजरात की बात करें तो यहां 6 लाख खुराकें बची हैं और 5 लाख लोग यहां पहुंचने वाले हैं। वहीं, बंगाल को अब तक 1.09 करोड़ खुराक मिल चुकी है, जिसमें से चार लाख बचे हैं और 4 लाख और मिलने हैं।

महाभियान 1 मई से शुरू हो रहा है

आपको बता दें कि भारत में अब तक लगभग 15 करोड़ वैक्सीन खुराक बनाई जा चुकी हैं, हर दिन औसतन 30 लाख खुराकें लगाई जा रही हैं। लेकिन 1 मई से इसकी रफ्तार बढ़ने की उम्मीद है। 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग अब वैक्सीन प्राप्त कर सकेंगे। लगभग दो दर्जन राज्यों ने वैक्सीन को नि: शुल्क स्थापित करने की घोषणा की है।

बुधवार शाम चार बजे से, कोई भी कोविन के पोर्टल या आरोग्य सेतु ऐप पर टीकाकरण (Vaccination) के लिए पंजीकरण कर सकता है। पंजीकरण के बाद, व्यक्ति को अस्पताल के टीकाकरण, स्थान और नाम की तारीख पता चल जाएगी।

ये भी देखे:- SBI Clerk Recruitment 2021 :SBI में 5237 क्लर्क पदों की भर्ती, जानिए योग्यता, वेतन, आवेदन सहित विशेष बातें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *