Tuesday, July 23, 2024
a

HomeदेशRailways की नई योजना- मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों से स्लीपर कोच हटाए...

Railways की नई योजना- मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों से स्लीपर कोच हटाए जाएंगे, केवल एसी कोच रहेंगे

Railways की नई योजना- मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों से स्लीपर कोच हटाए जाएंगे, केवल एसी कोच रहेंगे

News Desk:- वर्तमान में लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में 83 एसी कोच लगाने का प्रस्ताव है। हालांकि, इस साल के अंत तक कोचों की संख्या बढ़ाकर 100 कर दी जाएगी।

भारतीय रेलवे रेल नेटवर्क को अपग्रेड करने पर विचार कर रहा है। स्वर्णिम चतुर्भुज योजना के तहत लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें स्लीपर कोच को पूरी तरह से खत्म कर देंगी। यानी इन ट्रेनों में सिर्फ एसी कोच रहेंगे। ऐसी ट्रेन की गति 130/160 किमी प्रति घंटा होगी।

दरअसल, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें 130 किमी प्रति घंटे या उससे अधिक की रफ्तार से चलने पर नॉन-एसी कोच तकनीकी समस्या पैदा करते हैं। इसलिए ऐसी सभी ट्रेनों से स्लीपर कोच को खत्म कर दिया जाएगा।

ये भी देखे : PM Modi ने कहा प्रॉपर्टी कार्ड देकर तकलीफ हो तो भी बच्चों को पढ़ाइए, उन्हें राजमिस्त्री बनने के लिए मजबूर न करें

वर्तमान में लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में 83 एसी कोच लगाने का प्रस्ताव है। हालांकि, इस साल के अंत तक कोचों की संख्या बढ़ाकर 100 कर दी जाएगी। अगले साल कोच की संख्या बढ़ाकर 200 करने की योजना है। यानी आने वाले समय में यात्रा अधिक आरामदायक और कम समय लेने वाली होगी। अच्छी बात यह है कि इसके बदले किराया सामान्य एसी कोच से कम रखने की योजना है।

ये भी देखे :- Tech Tips: WhatsApp पर किसने आपको किया ब्लॉक, जानिए आसानी से

हालांकि, इसका मतलब यह नहीं है कि अब गैर-एसी कोच होंगे। वास्तव में, गैर-एसी कोच वाली ट्रेनों की गति एसी कोच वाली ट्रेनों की तुलना में कम होगी। जानकारी के मुताबिक ऐसी ट्रेनें 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी। यह सभी कार्य चरणबद्ध तरीके से किए जाएंगे, साथ ही नए अनुभवों से सबक लेकर आगे की योजना भी बनाई जाएगी।

इससे पहले, भारतीय रेलवे ने बुधवार को 39 नई यात्री ट्रेनें चलाने की मंजूरी दी। इन सभी ट्रेनों को स्पेशल ट्रेनों के रूप में चलाया जाएगा। सभी 39 ट्रेनों की सूची रेलवे ने जारी कर दी है, लेकिन वे कब से चलेंगी इसकी जानकारी नहीं दी गई है। रेलवे के मुताबिक, जल्द ही ये 39 नई स्पेशल ट्रेनें ट्रैक पर दौड़ती नजर आएंगी।

ये भी देखे :- Payal Ghosh ने पीएम मोदी से मांगी मदद, ‘माफिया गिरोह’ से मिली धमकी

मध्य रेलवे के अनुसार, 9 अक्टूबर से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस और नागपुर, पुणे, गोंदिया और सोलापुर के बीच 10 विशेष यात्री ट्रेनें चलेंगी। इन ट्रेनों में सामान्य कोच नहीं होंगे। बल्कि, ये पूरी तरह से विशेष यात्री ट्रेनें होंगी, जिसमें बिना कन्फर्म टिकट के यात्रा की अनुमति नहीं होगी।

साथ ही, इन ट्रेनों में वर्तमान में चल रही अन्य ट्रेनों की तरह, इन ट्रेनों में कोरोना वायरस से संबंधित सभी नियमों का भी पालन करना होगा। इसमें सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजेशन, फेस मास्क आदि शामिल हैं।

ये भी देखे :- Paytm अब विवादों के बाद Google को देगा टक्कर, अपना मिनी ऐप स्टोर लाया

निजी तेजस ट्रेनें भी 17 अक्टूबर से चलने लगेंगी। आईआरसीटीसी ने बुधवार को यह घोषणा की है। तेजस ट्रेन के लिए टिकट बुकिंग 8 अक्टूबर से शुरू हो गई है। बता दें कि कोरोना अवधि के दौरान, तेजस एक्सप्रेस ट्रेनों को 7 महीने के लिए बंद कर दिया गया है। लेकिन अब इसे शुरू किया जा रहा है। कंपनी के मुताबिक, ये ट्रेनें 17 अक्टूबर से लखनऊ-नई दिल्ली और अहमदाबाद-मुंबई रूट पर परिचालन फिर से शुरू करेंगी।

ये भी देखे :- ये 5 कंपनियां स्मार्टफोन बाजार में रहेगा जलवा, Huawei की मुश्किलें बढ़ जाएंगी

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments