Nahargarh

Nahargarh-राजनीतिक संरक्षण के चलते भू माफियाओं के हौसले बुलंद, नहीं हटा चरागाह की बेशकीमती भूमि से अतिक्रमण

Nahargarh – राजनीतिक संरक्षण के चलते भू माफियाओं के हौसले बुलंद, नहीं हटा चरागाह की बेशकीमती भूमि से अतिक्रमण

Nahargarh (भगवान दास कुशवाह)  उपतहसील मुख्यालय नाहरगढ़ में राजनीतिक संरक्षण के चलते माफियाओं के हौसले बुलंद हो रहे हैं जिससे कस्बे में खाली पड़ी चरागाह सहित सरकार की बेशकीमती भूमि पर अतिक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है यहां नाहरगढ़ में बांरा रोड स्थित गौशाला के सामने लगभग 200 बीघा चरागाह भूमि है जिस पर कस्बे सहित क्षेत्र के भू माफियाओं ने अतिक्रमण कर पत्थर की चारदीवारी सहित कच्ची टापरिया बना ली है तो वहीं कस्बे के गुना रोड स्थित आशीर्वाद पेट्रोल पंप से हर्बल गार्डन के बीच लगभग 8 बीघा चरागाह की बेशकीमती भूमि है जिस पर भी भू माफियाओं ने अपना कब्जा जमा रखा है कई बार ग्रामीणों की शिकायत करने के बाद भी पंचायत व तहसील प्रशासन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है

ये भी देखे :- Recipe:  मलाई से ज्यादा घी (ghee) नहीं मिलता, इस तरीके को अपनाएंगे तो घर पर ही निकाल पाएंगे एक किलो घी

जिसके चलते देखते ही देखते कस्बे में खाली पड़ी सरकारी बेशकीमती भूमि पर कब्जे हो गए हैं जब जब भी अतिक्रमण को लेकर पंचायत सहित तहसील प्रशासन को ग्रामीणों ने अवगत करवाया तब तब ही ग्रामीणों को प्रशासन की ओर से ढाक के तीन पात ही नजर आए प्रशासन अतिक्रमण हटाने की बातें तो करता है लेकिन अतिक्रमण हटता नहीं है क्योंकि यहां सरकारी भूमि पर अतिक्रमण करने वाले भुमाफियो
के राजनीतिक रसूख के चलते जब जब भी अतिक्रमण हटाने की योजना प्रशासन ने बनाई तब तब ही राजनीतिक दबाव के चलते अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही हवा हो जाती है और यही कारण है कि यहां सरकार की बेशकीमती भूमि को सरेराह बैच कस्बे सहित क्षेत्र के भूमाफिया मालामाल हो रहे हैं

ये भी  देखे  :-  Cylinder Man Viral :- जिम में सिलेंडर उठाने जाते थे, अब फिटनेस की दुनिया दीवानी, रातों-रात स्टार बन गए

पुर्व मे हटाया था अतिक्रमण

यहां कस्बे के बारा रोड स्थित गौशाला के सामने हुए लगभग 200 बीघा चरागाह भूमि से पूर्व में तत्कालीन सरपंच देवेंद्र कुमार सिंगल द्वारा तहसील प्रशासन का सहयोग ले संपूर्ण चरागाह भूमि से अतिक्रमण हटवा कर चरागाह भूमि को भू माफियाओं से मुक्त करवाया था तो वहीं कस्बे के गुना रोड स्थित आशीर्वाद पेट्रोल पंप व हर्बल गार्डन के बीच 8 बीघा  चरागाह की बेशकीमती भूमि से तत्कालीन सरपंच शशी प्रभा भार्गव ने भी प्रशासन का सहयोग ले अतिक्रमण हटवाया था लेकिन भुमाफियाओं को राजनीतिक संरक्षण मिलने के कारण दोनों ही जगह वापस अतिक्रमण  होगया है

ये भी देखे  :- राजस्थान रोडवेज को घाटे से उबारने के लिए CNG बसों का पायलट प्रोजेक्ट शुरू

जिला कलेक्टर के आदेश हुए हवा

वही नवनियुक्त जिला कलेक्टर राजेंद्र विजय द्वारा बांरा पद स्थापन के बाद पहली बार नाहरगढ़ पंचायत में हुए जिला स्तरीय आयोजन में भाग ले जनसुनवाई की थी उस समय भी ग्रामीणों की शिकायत पर नवनियुक्त जिला कलेक्टर राजेंद्र विजय ने पंचायत सहित तहसील प्रशासन को 3 दिन में अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए थे यहां तक कि अतिक्रमण नहीं हटाने पर नायब तहसीलदार सहित अन्य कर्मचारियों को सस्पेंड करने तक के आदेश दिए थे लेकिन राजनीतिक पावर के सामने जिला कलेक्टर तक के आदेश हवा हो गए हैं और तीन दिन तो दूर 3 माह बाद भी चरागाह की बेशकीमती भूमि से अतिक्रमण नहीं हट सका है बल्कि वर्तमान में अतिक्रमण बढ़ता ही जा रहा है जिससे ग्रामिणो मे भारी रोष व्याप्त है ग्रामीणों ने बताया कि यदि अब भी समय रहते पंचायत सहित तहसील प्रशासन ने सरकार की बेशकीमती  भूमि से अतिक्रमण नहीं हटाया तो हम आने वाले समय में धरना प्रदर्शन कर आंदोलनात्म कदम उठाएंगे जिसका जिम्मेदार प्रशासन होगा

ये भी देखे :- सोशल मीडिया (social media ) पर वायरल हुआ शादी के रिसेप्शन का मेन्यू कार्ड, तस्वीर देखकर लोग बोले- ‘ये मोटर पनीर क्या है 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *