Sukanya Samriddhi Yojana

जानिए सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana) में खाता खोलने के नियम, किन दस्तावेजों की है जरूरत

जानिए सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana) में खाता खोलने के नियम, किन दस्तावेजों की है जरूरत

समृद्धि योजना सिर्फ 250 रुपये प्रति वर्ष से शुरू की जा सकती है। पहले यह राशि 1000 रुपये रखी जाती थी। यह योजना बेटी के 10 साल की होने तक ली जा सकती है।

वैसे तो देश में बेटियों के कल्याण के लिए कई योजनाएं हैं, लेकिन हम जिस योजना के बारे में आपको बताने जा रहे हैं उसका नाम सुकन्या समृद्धि योजना है। इस योजना में निवेश करने से आपकी बेटी की पढ़ाई से लेकर शादी तक का सारा खर्चा पूरा किया जा सकता है। यह योजना 7.6% की वार्षिक ब्याज दर प्रदान करती है। इस योजना को डाकघर से भी खरीदा जा सकता है। इस योजना के माध्यम से आपको आयकर नियमों के तहत 1.5 लाख रुपये तक की कर छूट मिलती है। मतलब आप हर साल 1.5 लाख रुपये का निवेश करके टैक्स छूट का लाभ उठा सकते हैं। वहीं, इस पर मिलने वाला रिटर्न भी टैक्स फ्री होता है।

ये भी देखे :- Rajasthan: –  SDM बनने के लिए RAS प्री पास बहू लाने का विचार, मेन्स में फेल हुई  तो घर से निकाला

इस उम्र तक खुलवा सकते हैं बेटी का खाता: सुकन्या समृद्धि योजना ( Sukanya Samriddhi Yojana) में आप अपनी बेटी के जन्म से लेकर 10 साल से कम उम्र तक उसका खाता खोल सकते हैं। यह खाता 250 रुपये के वार्षिक न्यूनतम प्रीमियम पर खोला जा सकता है। जब यह योजना शुरू की गई थी, तो भुगतान किया जाने वाला न्यूनतम प्रीमियम 1000 रुपये प्रति वर्ष था। वहीं, इसकी अधिकतम सीमा 1.5 लाख रुपये सालाना है।

पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं अकाउंट: आप अपनी बेटी का अकाउंट पोस्ट ऑफिस और बैंक दोनों में खुलवा सकते हैं. यह खाता खुलने की तारीख से 21 साल तक जारी रखा जा सकता है। वैसे, बेटी के 18 साल की उम्र होने के बाद इसमें से 50 फीसदी पैसा निकाला जा सकता है. ताकि शिक्षा का खर्चा पूरा किया जा सके।

ये भी देखे :- यहां बिक रही 3 साल पुरानी Alto के10 CNG, 56 हजार किमी चल चुकी है

ये दस्तावेज हैं जरूरी: सुकन्या खाता खोलने के लिए आपको अपनी बेटी का जन्म प्रमाण पत्र बैंक और पोस्ट ऑफिस को देना होगा। इस एक दस्तावेज के बिना खाता नहीं खुल पाएगा। इसके अलावा माता-पिता को अपना पहचान पत्र भी देना होगा। वैसे यह खाता न्यूनतम 250 रुपये से खोला जा सकता है। इसके बाद इसे 100 रुपये के गुणकों में जमा किया जा सकता है।

ये भी देखे :- LPG Cylinder : सस्ते में खरीदें LPG गैस सिलेंडर, यहां बुकिंग पर पाएं ₹900 की छूट, 31 जुलाई तक मौका

आपको कितने कार्यकाल तक जमा करना है रुपये सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के बाद आपको 15 साल तक नियमित रूप से निवेश करते रहना होगा। उसके बाद आपको 6 साल तक ब्याज मिलता रहेगा। उदाहरण के तौर पर अगर आपकी बेटी 5 साल की है तो आपको 20 साल की उम्र तक निवेश करते रहना होगा। उसके बाद, अगले 6 वर्षों तक ब्याज मिलता रहेगा और परिपक्वता अवधि समाप्त होने के बाद, पूरा रुपया उपलब्ध होगा।

अगर ऐसा किया जाता है तो: सुकन्या समृद्धि खाते में मिनिमम बैलेंस नहीं होने पर अकाउंट अनियमित हो जाता है। बाद में नियमित करने के लिए सालाना 50 रुपये का जुर्माना भरना पड़ता है। वहीं, आपको प्लान की न्यूनतम राशि का भुगतान भी करना होगा। यदि आप पेनल्टी का भुगतान नहीं करते हैं, तो आपका खाता बचत में परिवर्तित हो जाता है और आपको बचत खाते का ब्याज यानी लगभग 4% मिलता है।

ये भी देखे :- PAN card पर लिखा होता है 10 नंबर, कौन सा नंबर है खास, जानिए इसके बारे में सबकुछ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *