LPG

खुशखबरी: गांवों में खुलेंगे 1 लाख LPG सेंटर, हर घर को आसानी से मिलेगा LPG सिलेंडर

खुशखबरी: गांवों में खुलेंगे 1 लाख LPG सेंटर, हर घर को आसानी से मिलेगा LPG सिलेंडर

सीएससी एसपीवी के सीईओ संजय कुमार राकेश ने कहा कि हम जिस एलपीजी केंद्र का प्रबंधन कर रहे हैं, उसका उद्देश्य गरीब परिवारों को स्वच्छ ईंधन उपलब्ध कराना है।

एलपीजी सिलेंडर आज हर घर की जरूरत बन गया है। छोटे शहरों और गांवों में भी महिलाएं चूल्हा फूंकने की बजाय LPG गैस के चूल्हे पर खाना बनाने लगी हैं। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत दिए जाने वाले मुफ्त गैस कनेक्शन से खासकर गांवों में काफी राहत मिली है. हालांकि, बड़े शहरों की तुलना में अभी भी गांवों और छोटे शहरों में गैस सिलेंडर बहुत आसानी से और कम समय में नहीं पहुंचाए जाते हैं। लेकिन आने वाले समय में यह समस्या जल्द ही दूर हो जाएगी।

हाँ! LPG गैस सिलेंडर गांवों और छोटे शहरों में बहुत ही कम समय में और बहुत आसानी से उपलब्ध हो जाएगा। लोगों को नया कनेक्शन लेने में भी परेशानी नहीं होगी। यह सरकार की ई-सेवा वितरण इकाई सीएससी एसपीवी के कारण संभव हुआ है। बता दें कि सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड (सीएससी एसपीवी) एक अर्ध-सरकारी कंपनी है। CSC SPV यानि CSC स्पेशल पर्पस व्हीकल की स्थापना 2009 में सरकारी योजनाओं को सपोर्ट करने के लिए की गई थी। हालांकि, 2015 के बाद से, सीएससी एसपीवी स्थानांतरित और परिवर्तित हो गया है।

ये भी देखे:- 1 जून से फ्री नहीं होगा Google का ये एप, आपको बैकअप लेना होगा?

एसपीवी की आगामी योजना क्या है?

एसपीवी ने कहा है कि उसकी मार्च 2022 तक देश भर में एक लाख एलपीजी वितरण केंद्र स्थापित करने की योजना है। ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों पर जोर दिया जाएगा। सीएससी एसपीवी ने कहा कि उसने तीन सरकारी तेल कंपनियों बीपीसीएल, बीपीसीएल, एचपीसीएल और आईओसीएल के सहयोग से विभिन्न राज्यों में लगभग 21,000 एलपीजी केंद्र खोले हैं।

सीएससीसी एसपीवी के प्रबंध निदेशक दिनेश त्यागी ने एक बयान में कहा, “बीपीसीएल के साथ, आज हमारे एलपीजी वितरण केंद्र 10,000 तक पहुंच गए हैं, जो हमारे लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। इसके अलावा, हम एचपीसीएल और 5,000 के सहयोग से 6,000 एलपीजी वितरण केंद्र चला रहे हैं। आईओसी के साथ “उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष के अंत तक हमारे एलपीजी वितरण केंद्र एक लाख तक पहुंच जाएंगे।”

पांच राज्यों में खुले सबसे ज्यादा वितरण केंद्र

सीएससी ने ये एलपीजी वितरण केंद्र सभी राज्यों में खोले हैं। पांच राज्यों… उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, बिहार और राजस्थान में इन केंद्रों की संख्या सबसे अधिक है। त्यागी ने कहा, “हमारा जोर ग्रामीण इलाकों पर है जहां लोग अभी भी खाना पकाने के लिए लकड़ी और अन्य प्रदूषणकारी ईंधन पर निर्भर हैं।

डिजिटल पोर्टल के जरिए घर पहुंचेगा सिलेंडर

सीएससी अपने डिजिटल सेवा पोर्टल के माध्यम से लाभार्थियों को एलपीजी सिलेंडर उनके घर तक पहुंचाने में मदद करेगा। सीएससी एसपीवी के सीईओ संजय कुमार राकेश ने कहा कि हम जिस एलपीजी केंद्र का प्रबंधन कर रहे हैं, उसका उद्देश्य गरीब परिवारों को स्वच्छ ईंधन उपलब्ध कराना है।

ये भी देखे:- WhatsApp को टक्कर देने के लिए Google ने चैट ऐप को किया रोलआउट

Leave a Reply

Your email address will not be published.