Monday, December 5, 2022
HomeदेशEPFO : PF खाताधारकों ने किया बल्लेबाजी, दिवाली से पहले खाते में...

EPFO : PF खाताधारकों ने किया बल्लेबाजी, दिवाली से पहले खाते में आ जाएगी बड़ी रकम, जानिए सबकुछ

EPFO : PF खाताधारकों ने किया बल्लेबाजी, दिवाली से पहले खाते में आ जाएगी बड़ी रकम, जानिए सबकुछ

कोरोना वायरस के संक्रमण से दुनिया भर में लोगों की जान के साथ-साथ आर्थिक नुकसान भी हुआ है। संक्रमण से अब तक देशभर में करीब 4.44 लाख मरीजों की जान जा चुकी है, जिसकी रफ्तार धीमी जरूर हुई है, लेकिन खतरा टला नहीं है।

कोरोना कर्फ्यू लागू होने से सभी फैक्ट्रियों में ताले लटके हुए थे, जिससे लोगों का काम छिन गया और पैसे की समस्या सिर पर है. सरकार मदद के लिए आगे आई, लेकिन आर्थिक स्थिति अभी भी पटरी से नहीं उतर रही है. इस बीच अगर किसी सरकारी या गैर सरकारी कंपनी में काम करने के दौरान आपका पीएफ कट जाता है तो यह खबर आपके बहुत काम की है।

ये भी देखे :- Android phone में इस नंबर को भूल कर भी  डायल करना न भूलें वरना फ़ोन रीसेट हो जाएगा

वैसे भी अब भारत में त्योहारों का सीजन शुरू होगा जिसे लेकर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं. सरकार त्योहारों के दौरान नौकरीपेशा लोगों के लिए नए ऑफर देती है। इस बीच, पीएफ खाताधारकों को दीवाली से पहले ब्याज राशि मिलने की उम्मीद है।

कर्मचारियों के पीएफ खाते में 8.5 फीसदी की दर से ब्याज जोड़ा जा सकता है. एक खबर के अनुसार, दो सरकारी अधिकारियों ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि जब सरकार की ओर से कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के खातों में महंगाई भत्ता आएगा, संयोग से ईपीएफओ भी खातों में ब्याज ट्रांसफर करने जा रहा है. उसी समय।

ये भी देखे :- गीला कपड़ा बताएगा LPG cylinder में कितनी गैस बची है, जानिए ये आसान ट्रिक

EPFO के केंद्रीय बोर्ड ने 8.5 फीसदी ब्याज देने का फैसला किया है. EPFO ने 8.5 फीसदी ब्याज पर वित्त मंत्रालय से मंजूरी मांगी है. संभव है कि जल्द ही वित्त मंत्रालय इस पर अपनी मुहर लगाए। वित्त मंत्रालय द्वारा वित्त वर्ष 2020-2021 के लिए 8.5% ब्याज पर ईपीएफओ को मंजूरी मिलते ही यह कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के खातों में पैसा ट्रांसफर कर देगा।

ये भी देखे :- Made in India Facebook:- Bharatam ऐप लॉन्च, फेसबुक के सभी फीचर्स मिलेंगे

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments