Monday, February 26, 2024
a

Homeदेशकेंद्रीय कैबिनेट का निर्णय: इन्फ्रा और विकास कार्यों को निधि देने के...

केंद्रीय कैबिनेट का निर्णय: इन्फ्रा और विकास कार्यों को निधि देने के लिए नए बैंक (Bank) का गठन किया जाएगा

केंद्रीय कैबिनेट का निर्णय: इन्फ्रा और विकास कार्यों को निधि देने के लिए नए बैंक (Bank) का गठन किया जाएगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की अध्यक्षता में मंगलवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक हुई। बैठक के बाद, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बैठक में लिए गए फैसलों के बारे में जानकारी दी। वित्त मंत्री ने कहा कि बैठक में यह निर्णय लिया गया कि एक नया राष्ट्रीय बैंक बनाया जाएगा जो बुनियादी ढांचे (विकास) और विकास संबंधी कार्यों के लिए धन जुटाएगा।

कैबिनेट ने अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम में ट्रांसमिशन और वितरण को मजबूत करने के लिए 9129.32 करोड़ रुपये के संशोधित लागत अनुमान को भी मंजूरी दी। भारत और मालदीव के बीच खेल और युवा मामलों में सहयोग पर समझौता (एमओयू) की अनुमति। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि बजट के दौरान हमने उल्लेख किया था कि हम बुनियादी ढांचे और विकास संबंधी गतिविधियों के लिए एक राष्ट्रीय बैंक की स्थापना करेंगे। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने विकास वित्त संस्थान (DFI) या विकास वित्त संस्थान के गठन को मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि विकास और वित्तीय उद्देश्य डीएफआई की स्थापना के लिए महत्वपूर्ण और महत्वपूर्ण होंगे। प्रस्तावित DFI में 50 प्रतिशत निदेशक गैर-सरकारी होंगे।

ये भी देखे:- अगर आप ATM से या तय सीमा से ज्यादा पैसा निकाल रहे हैं, तो यह नियम आपके लिए जरूरी है, सब कुछ जान लीजिए

वित्त मंत्री ने कहा कि डीएफआई लंबी अवधि के लिए धन जुटाने में मदद करेगा, साथ ही बजट 2021 से प्रारंभिक धन उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस वर्ष लगभग 20 हजार करोड़ रुपये का पूंजी जलसेक होगा, इसका प्रारंभिक अनुदान पांच हजार करोड़ रुपये होगा। इसके साथ ही, सीतारमण ने कहा कि अनुदान की अतिरिक्त वृद्धि पांच हजार करोड़ रुपये की सीमा के भीतर की जाएगी। इससे दीर्घकालिक ऋण की उपलब्धता बढ़ाने में मदद मिलेगी।

 

‘डीएफआई के लिए सुरक्षा जारी करने की योजना में सरकार’

वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार डीएफआई के लिए कुछ प्रतिभूतियों को जारी करने की योजना बना रही है, जिससे फंड की लागत कम हो जाएगी। यह सब डीएफआई को प्रारंभिक पूंजी का लाभ उठाने और विभिन्न स्रोतों से धन निकालने में मदद करेगा। सीतारमण ने कहा कि इससे भारत में बॉन्ड बाजार पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

‘बैंकों का निजीकरण उनके कर्मचारियों के हितों को प्रभावित नहीं करेगा’

सीतारमण ने कहा कि जिन बैंकों के निजीकरण की संभावना है, वे निजीकरण के बाद भी अपनी गतिविधियों को जारी रखने में सक्षम होंगे। वहां के कर्मचारियों के हितों की रक्षा की जाएगी। उन्होंने कहा कि निजीकरण किए जा रहे बैंकों के कर्मचारियों के हितों को हर कीमत पर सुरक्षित रखा जाएगा, चाहे वह वेतन हो या पेंशन, सभी का ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि हमने एक सार्वजनिक उद्यम नीति की घोषणा की है, जिसमें हमने चार क्षेत्रों की पहचान की है जहां सार्वजनिक क्षेत्र की उपस्थिति होगी। वित्त क्षेत्र भी उनमें से एक है। वित्त मंत्री ने कहा कि सभी बैंकों का निजीकरण नहीं होने जा रहा है।

ये भी देखे:- 1 April से लागू हो सकती है नई सैलरी, जानिए प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों पर कितना होगा असर

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments