Corona Returns

Corona Returns! महाराष्ट्र के लिए 31 मार्च तक जारी दिशा-निर्देश, MP-पंजाब में सख्ती

Corona Returns! महाराष्ट्र के लिए 31 मार्च तक जारी दिशा-निर्देश, MP-पंजाब में सख्ती

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में भारत में कोरोना वायरस के 26,291 नए मामले सामने आए हैं। जिसके बाद देश में कोरोना मामलों की कुल संख्या 1,13,85,339 हो गई है।

पूरे देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं। कोरोना मामलों के बढ़ने के साथ, मुश्किल स्थिति भी वापस लौटने लगी है। लॉकडाउन महाराष्ट्र के कई इलाकों में लौट आया है। राज्य में 31 मार्च तक नए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। वहीं, पंजाब में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 10 वीं और 12 वीं की बोर्ड परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। अब भारत और इंग्लैंड के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में तीन टी 20 मैचों का आयोजन करने का फैसला किया गया है, वह भी बिना दर्शकों के। साथ ही, गुजरात के कई इलाकों में रात 10 बजे तक खाद्य पदार्थों के साथ दुकानें बंद करने के आदेश दिए गए हैं।

महाराष्ट्र में बढ़े मामले

सोमवार को, महाराष्ट्र में कोरोना के 15,051 नए मामले सामने आए हैं, जबकि कोरोना के कारण 48 लोगों की मौत हुई है। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 1,30,547 है। वहां सोमवार को ही 10,671 लोग कोरोना से ठीक होकर अस्पताल से बाहर आए। राज्य में वसूली दर 92.07 प्रतिशत है। राज्य में अब तक 23,29,464 कोरोना मामले सामने आए हैं। राज्य में कोरोन से मृत्यु दर 2.27 प्रतिशत हो गई है। घरेलू संगरोध में 6,23,121 लोग हैं, जबकि 6,114 लोग संस्थान संगरोध में हैं। राज्य में संक्रमण दर 13.23 प्रतिशत है।

ये भी देखे:- अगर आप ATM से या तय सीमा से ज्यादा पैसा निकाल रहे हैं, तो यह नियम आपके लिए जरूरी है, सब कुछ जान लीजिए

दिल्ली में कोरोना के साथ स्थिति कैसी है

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामलों की बात करें तो यहाँ कुछ राहत भरी खबर है। चार दिन बाद, राज्य में कोरोना के दैनिक आंकड़े 400 तक कम हो गए हैं। हालांकि, सक्रिय मामलों की संख्या अभी भी 2300 से परे है। यह संख्या इस 19 जनवरी के बाद सबसे बड़ी है। 19 जनवरी को राज्य में 2334 सक्रिय मामले थे। राज्य में घर अलगाव में 1342 मरीज हैं। यह संख्या 14 जनवरी के बाद सबसे बड़ी है। 13 जनवरी को, घर के अलगाव में 1345 मरीज थे। राजधानी में सक्रिय रोगियों की दर 0.36 प्रतिशत हो गई है। वहीं, यहां संक्रमण दर 0.59 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी की दर 97.94 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों में राज्य में कोरोना से तीन मौतें हुई हैं और 368 मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही राज्य में कुल मौत का आंकड़ा 10,944 हो गया है। जबकि राज्य में कुल कोरोना मामले बढ़कर 6,44,064 हो गए हैं।

वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना से सही हुए मामलों की संख्या 306 है, जिसके बाद ठीक होने वालों का कुल आंकड़ा बढ़कर 6,30,799 हो गया है। राज्य में पिछले 24 घंटों में 62,272 कोरोना परीक्षण हुए हैं। इसके साथ, परीक्षण का कुल आंकड़ा 1,33,58,365 हो गया है। जिसमें RTPCR टेस्ट की संख्या 44,526 और एंटीजन टेस्ट की संख्या 17,746 है। राज्य में कोरोना मृत्यु दर 1.7 प्रतिशत है। जबकि विवाद क्षेत्रों की संख्या 548 है।
गुजरात में भ्रष्टाचार की वजह से भ्रष्टाचार बढ़ा

गुजरात में कोरोना मामलों की बात करें तो यहां पिछले 24 घंटों में 890 नए मामले सामने आए हैं। कोरोना से 594 लोग बरामद हुए हैं जबकि एक की मौत हो गई है। सूरत में 240, अहमदाबाद में 205, राजकोट में 79 और वडोदरा में 76 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कुल सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 4717 हो गई है। 4661 लोगों की हालत स्थिर है जबकि 56 लोग वेंटिलेटर पर हैं। 15 मार्च को, 107323 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाया गया है।

अहमदाबाद में, कोरोना के कारण, सख्ती बढ़ा दी गई है। भारत और इंग्लैंड के बीच नरेंद्र मोदी स्टेडियम में तीन टी 20 मैचों का आयोजन करने का निर्णय लिया गया है, जो किसी भी दर्शक के बिना नहीं होगा। इसके अलावा रात में 10 बजे तक 8 इलाकों में पान की दुकान, मॉल, शोरूम, खाने-पीने की दुकान, रेस्तरां, क्लब हाउस को बंद करने के आदेश दिए गए हैं।

ये भी देखे:- 1 April से लागू हो सकती है नई सैलरी, जानिए प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों पर कितना होगा असर

एमपी में कोरोना ने रफ्तार पकड़ी

कोरोना ने फिर से मध्य प्रदेश में गति प्राप्त की है। पिछले 24 घंटों में, 797 नए मामले सामने आए हैं। वर्ष 2021 में यह पहला मौका है जब मामलों की संख्या इतनी अधिक है। वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना से भी तीन की मौत हुई है। मप्र में कुल कोरोना मामले बढ़कर 2,69,391 हो गए हैं। सकारात्मकता दर भी इस साल पहली बार 5.4% तक बढ़ गई है। इंदौर में सबसे अधिक 259 नए कोरोना मामले हैं जबकि 199 नए कोरोना मामले भोपाल में दर्ज किए गए हैं। कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के कारण, राजधानी भोपाल में कलेक्टर ने धारा 144 के तहत नए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *