Thursday, February 22, 2024
aspot_img

HomeदेशKejriwal सरकार की बड़ी घोषणा: कैबिनेट ने दी दिल्ली बोर्ड ऑफ स्कूल...

Kejriwal सरकार की बड़ी घोषणा: कैबिनेट ने दी दिल्ली बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन को मंजूरी, अगले 4-5 सालों में सभी स्कूलों को इससे जोड़ा जाएगा

कैबिनेट ने दी दिल्ली (Delhi) बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन को मंजूरी, अगले 4-5 सालों में सभी स्कूलों को इससे जोड़ा जाएगा

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि स्कूलों का चयन प्राचार्यों, शिक्षकों और अभिभावकों से बात करने के बाद ही किया जाएगा। दिल्ली के सभी स्कूल अगले 4-5 वर्षों में इस बोर्ड में शामिल हो जाएंगे। दिल्ली की केजरीवाल सरकार की कैबिनेट ने शनिवार को दिल्ली बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुद इसकी घोषणा की। उन्होंने बताया कि दिल्ली (Delhi) के 20-25 स्कूलों को शैक्षणिक वर्ष 2021-22 में शामिल किया जाएगा।

ये भी देखे :- पहला सेलुलर लैपटॉप :- Jio अब मोबाइल, डेटा के बाद सबसे सस्ता लैपटॉप है ला रहा है 

पिछली दो समितियों का गठन किया गया था

दिल्ली (Delhi) सरकार ने पिछले साल राज्य बोर्ड ऑफ एजुकेशन एंड पाठ्यक्रम सुधारों के गठन के लिए एक योजना और एक रूपरेखा तैयार करने के लिए दो समितियों का गठन किया था। इस पर चर्चा करने के बाद, दिल्ली सरकार के मंत्रिमंडल ने अपने स्वयं के शिक्षा बोर्ड को हरी झंडी दे दी।

केजरीवाल व्यावहारिक ज्ञान पर जोर देंगे

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में लगभग एक हजार सरकारी और 1700 निजी स्कूल हैं। सभी सरकारी स्कूल और अधिकांश निजी स्कूल वर्तमान में CBSE बोर्ड से जुड़े हैं। हम शुरू में कुछ स्कूलों में दिल्ली बोर्ड के तहत पढ़ाई शुरू करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि यह हंगामे के बजाय व्यावहारिक ज्ञान पर जोर नहीं देगा।

उन्होंने कहा कि जिन स्कूलों को दिल्ली बोर्ड से जोड़ा जाएगा उनकी सीबीएसई मान्यता खत्म हो जाएगी। प्राचार्यों, शिक्षकों और अभिभावकों से बात करने के बाद ही स्कूलों का चयन किया जाएगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले 4-5 सालों में दिल्ली के सभी स्कूल इस बोर्ड में शामिल हो जाएंगे।

ये भी देखे :- LPG Cylinder : – इन नियमों से आम आदमी को मिलेगी राहत, रसोई गैस मिलेगी आसानी से 

उन्होंने कहा कि बोर्ड के लिए एक शासी निकाय का गठन किया जाएगा। उनकी अध्यक्षता शिक्षा मंत्री करेंगे। इसके दैनिक कार्य के लिए एक कार्यकारी निकाय भी होगा, जिसकी अध्यक्षता सीईओ करेंगे। दोनों निकायों में उद्योग, शिक्षा क्षेत्र के विशेषज्ञ, सरकारी-निजी स्कूल के प्रिंसिपल और नौकरशाह शामिल होंगे।

ये भी देखे :- BIG NEWS  :-  अब कार में यह खास फीचर होगा जरूरी, 1 अप्रैल से लागू हो रहा है नया नियम

रोजगार के लिए आपको नहीं खाना पड़ेगा: केजरीवाल

उन्होंने कहा कि अब ऐसी शिक्षा तैयार की जाएगी, जिससे बच्चों को पढ़ाई के बाद रोजगार के लिए धकेलना न पड़े। आज, पूरी शिक्षा प्रणाली रट्टा सीखने पर जोर देती है, जिसे बदलने के लिए जोर देना होगा।

दिल्ली के सरकारी स्कूलों का परिणाम निजी से बेहतर है

उन्होंने कहा कि आज दिल्ली के सरकारी स्कूलों का 98% परिणाम आने लगा है। दिल्ली के सरकारी स्कूलों के बच्चों के नतीजे निजी स्कूलों से अच्छे आने लगे हैं। जो माता-पिता पहले सरकारी स्कूलों में बच्चों को नहीं भेजते थे, अब दिल्ली के सरकारी स्कूलों में अपने बच्चों के भविष्य को सुरक्षित मानते हैं। ऐसे समय में, यह तय करने का समय है कि स्कूल में क्या पढ़ाया जा रहा है और इसे क्यों पढ़ाया जा रहा है? इसलिए अब हमें ऐसे बच्चों को तैयार करने की जरूरत है, जो देशभक्त हों और खुद पर हर क्षेत्र की जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार हों।

ये भी देखे :-  JCB कंपनी का नाम है, लेकिन  इस गाड़ी को क्या कहते हैं?

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments