Monday, February 26, 2024
a

Homeदेशहवा से पानी: राहुल गांधी ने PM Modi के विचार का मजाक...

हवा से पानी: राहुल गांधी ने PM Modi के विचार का मजाक उड़ाया, स्मृति ईरानी बचाव में आईं, बीजेपी ने दिया ‘सबूत’

हवा से पानी: राहुल गांधी ने PM Modi के विचार का मजाक उड़ाया, स्मृति ईरानी बचाव में आईं, बीजेपी ने दिया ‘सबूत’

News Desk: पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। पीएम मोदी ने डेनमार्क के प्रधानमंत्री के साथ बातचीत का एक अंश साझा करते हुए कहा कि हमारे प्रधान मंत्री को कुछ भी समझ में नहीं आता है। उन्होंने लिखा कि ‘असली खतरा यह नहीं है कि हमारे पीएम को कुछ समझ नहीं आ रहा है। खतरा यह है कि उसके पास किसी को अपने कब्जे में बताने की हिम्मत नहीं है।

इस वीडियो में मोदी पवन ऊर्जा के बारे में बात कर रहे हैं। वह डेनमार्क के प्रधान मंत्री से कहता है कि पवन टरबाइन के माध्यम से ‘हवा से पानी’ निकाला जा सकता है। इस ट्वीट के बाद, स्मृति ईरानी सहित कई केंद्रीय मंत्रियों ने राहुल की समझ पर सवाल उठाया। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी इस दिशा में शोध से जुड़े ट्वीट किए और कहा कि राहुल गांधी को समय मिलने पर उन्हें पढ़ना चाहिए।

ये भी देखे :- FIR दर्ज ? तीन नामी चैनल ने की टीआरपी से छेड़खानी

वीडियो में मोदी ने क्या कहा?

राहुल ने हाल ही में डेनमार्क के प्रधानमंत्री के साथ पीएम मोदी की बातचीत का एक वीडियो साझा किया है। इसमें मोदी कह रहे हैं कि ‘जहां पवन ऊर्जा टरबाइन के माध्यम से अधिक नमी है, अगर वे हवा से पानी भिगो कर पीने का साफ पानी बना सकते हैं, तो वे ऊर्जा के लिए भी काम करेंगे और पीछे से पानी भी प्राप्त कर सकेंगे।

मोदी ने कहा कि टरबाइन से गांव में पेयजल समस्या समाप्त हो सकती है। उन्होंने यह भी कहा कि टरबाइन के माध्यम से ऑक्सीजन को हवा से भी अलग किया जा सकता है। मोदी ने कहा कि इस बारे में थोड़ी वैज्ञानिक समझ विकसित करने की जरूरत है। इसके जवाब में डेनमार्क के प्रधानमंत्री ने कहा कि वह मोदी के जुनून पर मुस्कुरा रहे हैं। उन्होंने इंजीनियरों को समझाने के लिए पीएम मोदी को डेनमार्क आने का न्योता भी दिया।

भाजपा नेताओं की ओर से पलटवार

राहुल गांधी के ट्वीट के एक घंटे के भीतर, भाजपा नेताओं ने जवाबी हमला किया। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लिखा कि ‘राहुल गांधी के आसपास कोई भी यह बताने का साहस नहीं करता कि वह समझ नहीं पा रहा है। वह पीएम नरेंद्र मोदी के विचारों का मजाक उड़ाते हैं, जबकि दुनिया की अग्रणी कंपनी के सीईओ उनसे सहमत हैं।

ये भी देखे :- ये 5 कंपनियां स्मार्टफोन बाजार में रहेगा जलवा, Huawei की मुश्किलें बढ़ जाएंगी

लोकसभा चुनाव में अमेठी में राहुल गांधी को हराने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा, “ऐसा लगता है कि कांग्रेस का असली खतरा बढ़ रहा है और किसी में भी युवराज को कुछ और बताने की हिम्मत नहीं है।” भाजपा के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कुछ समाचार रिपोर्टों के लिंक साझा किए हैं जो टरबाइन के माध्यम से हवा से पानी बनाने की बात करते हैं।

शोध क्या कहता है?

अक्षय ऊर्जा पवन टरबाइन से बनाई जाती है। सीएनएन की एक रिपोर्ट ने फ्रांसीसी कंपनी के हवाले से दावा किया है कि उसने जो टरबाइन बनाया था, वह नम हवा से पानी बना सकता है। अबू धाबी रेगिस्तान में भी इसका परीक्षण किया गया था। हालांकि, मोदी ने। हवा से ऑक्सीजन ’निकालने के बारे में क्या कहा, इस पर बहुत शोध हुआ है।

ये भी देखे :- Paytm अब विवादों के बाद Google को देगा टक्कर, अपना मिनी ऐप स्टोर लाया

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments