Monday, July 15, 2024
a

Homeराज्य शहरउत्तर प्रदेशUPSESSB TGT-PGT भर्ती 2021: एडेड कॉलेजों में शिक्षकों के 15198 पदों पर...

UPSESSB TGT-PGT भर्ती 2021: एडेड कॉलेजों में शिक्षकों के 15198 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन शुरू

UPSESSB TGT-PGT भर्ती 2021: एडेड कॉलेजों में शिक्षकों के 15198 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन शुरू 

UPSESSB TGT-PGT भर्ती 2021: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने राज्य के 4500 से अधिक सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में 12603 प्रशिक्षित स्नातक (TGT) और प्रवक्ता के 2595 कुल 15198 पदों की नियुक्ति के लिए संशोधित विज्ञापन सोमवार देर शाम जारी किया। । जारी किए गए संशोधित विज्ञापन में लगभग चार महीने बाद, प्रशिक्षित स्नातकों (TGT) के 310 पद कम किए गए हैं। अभ्यर्थी चयन बोर्ड की वेबसाइट www.upsessb.org पर मंगलवार से ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

29 अक्टूबर 2020 को चयन बोर्ड ने टीजीटी के 12913 पदों और पीजीटी के 15508 पदों के कुल 2595 पदों के लिए विज्ञापन जारी किया था। लेकिन सोमवार को जारी संशोधित विज्ञप्ति में टीजीटी के 12603 और पीजीटी के 2595 पदों को छोड़कर 15198 पद हैं। टीजीटी ने 310 पद कम किए हैं। यह स्थिति तब है जब अध्यक्ष वीरेश कुमार ने पद कम नहीं करने की बात कही है और जिला विद्यालय निरीक्षकों के खिलाफ कार्रवाई करने की भी तैयारी चल रही है।

ये भी देखे:- 1 April से लागू हो सकती है नई सैलरी, जानिए प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों पर कितना होगा असर

जीव विज्ञान विषय के अभ्यर्थियों को मौका मिला

संशोधित विज्ञापन में प्रशिक्षित स्नातक जीव विज्ञान के पद को भी शामिल किया गया है। विज्ञान में ही TGT में 310 पदों की कमी है। 29 अक्टूबर को जारी विज्ञापन में 1943 विज्ञान के पद थे। लेकिन संशोधित विज्ञापन में कुल 1633 पद, विज्ञान के लिए 898 और जीव विज्ञान के लिए 735 पद हैं। संजय सिंह के मामले में, सर्वोच्च न्यायालय के आदेश की अवमानना ​​से बचने के लिए, विज्ञान और जीव विज्ञान के पदों के लिए अलग-अलग आवेदन लिए जाएंगे। आपके अपने अखबार हिंदुस्तान ने इस मुद्दे को उठाया। पहले के विज्ञापन के साथ समस्या यह थी कि जीव विज्ञान विषय के शिक्षक जो तदर्थ पढ़ा रहे थे, वे बाहर हो रहे थे। इसलिए यह विषय कवर किया गया है। यह अलग बात है कि यूपी बोर्ड ने लगभग ढाई दशक पहले हाई स्कूल स्तर से जीव विज्ञान को हटा दिया था।

ताजा और तदर्थ शिक्षकों को परीक्षा में बराबर अंक मिले

चयन बोर्ड ने लिखित परीक्षा में नए और तदर्थ शिक्षकों को समान अंक देने का फैसला किया है। संशोधित विज्ञापन में पुरानी रिलीज़ के सबसे विवादास्पद हिस्से को हटा दिया गया है। चयन बोर्ड ने पहले नए उम्मीदवारों और तदर्थ शिक्षकों के लिए क्रमशः 500 और 465 अंकों की लिखित परीक्षा आयोजित करने का निर्णय लिया था। नए उम्मीदवारों को 4 अंक और तदर्थ शिक्षकों को 3.72 अंक देने की बात थी। लेकिन अब इसे संशोधित करके नए उम्मीदवारों और तदर्थ शिक्षकों को समान रूप से चार अंक दिए जाने की बात है।

ये भी पढ़े:- राशन कार्ड धारकों के लिए Mera Ration App लॉन्च, अब किसी भी राज्य में राशन लेना आसान

तदर्थ शिक्षकों का वजन कम किया

संशोधित विज्ञापन में चयन बोर्ड ने तदर्थ शिक्षकों का वजन भी कम किया है। 29 अक्टूबर के विज्ञापन में, एडहॉक शिक्षकों को एक साल की सेवा के लिए अधिकतम 35 अंक देने के लिए 1.75 अंक देने का प्रावधान किया गया था। लेकिन अब एक वर्ष की सेवा पर इसे घटाकर 1.5 अंक और अधिकतम 30 अंक करने का प्रावधान किया गया है। प्रशिक्षित स्नातक का साक्षात्कार नहीं होगा। एडहॉक शिक्षकों को लिखित परीक्षा में प्राप्त अंकों के लिए सेवा-आधारित अधिभार अंक जोड़े जाएंगे, जो किसी भी मामले में 500 अंकों से अधिक नहीं होगा। वहीं, प्रवक्ता का अधिभार साक्षात्कार में 30 अंकों पर देय होगा।

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments