Tuesday, July 23, 2024
a

Homeराज्य शहरराजस्थानराजस्थान में इस दिवाली कोई आतिशबाजी नहीं होगी, CM Ashok Gehlot (अशोक...

राजस्थान में इस दिवाली कोई आतिशबाजी नहीं होगी, CM Ashok Gehlot (अशोक गहलोत) ने पटाखों पर प्रतिबंध लगाया

राजस्थान में इस दिवाली कोई आतिशबाजी नहीं होगी, CM Ashok Gehlot (अशोक गहलोत) ने पटाखों पर प्रतिबंध लगाया

जयपुर: राजस्थान की गहलोत सरकार ने महामारी कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों को देखते हुए दिवाली के पटाखों पर प्रतिबंध लगा दिया है। कोरोना समीक्षा के दौरान, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दीवाली पर पटाखों और पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

राजस्थान की गहलोत सरकार ने महामारी कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों को देखते हुए दिवाली के पटाखों पर प्रतिबंध लगा दिया है। कोरोना समीक्षा के दौरान, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दीवाली पर पटाखों और पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

ये भी देखे :  Rajasthan में गुर्जर आंदोलन: भरतपुर-करौली इंटरनेट सहित 4 जिले आधी रात तक बंद; 60 ट्रेनों को डायवर्ट किया गया, 220 बसों को रोका गया

दरअसल, पटाखों से निकलने वाले जहरीले धुएं की वजह से कोरोना के मरीजों को काफी परेशानी हो सकती है। यही वजह है कि राजस्थान सरकार ने दिवाली पर पटाखों और पटाखों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है।

सीएम गहलोत ने कहा कि आतिशबाजी से निकलने वाले धुएं की वजह से कोरोना के मरीजों के साथ-साथ सांस लेने वाले और दिल के मरीजों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

ऐसे में लोगों को दिवाली पर आतिशबाजी से बचना चाहिए। उन्होंने पटाखों की बिक्री के अस्थायी लाइसेंस पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने कहा कि शादी और अन्य समारोहों में भी पटाखों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

गहलोत ने पटाखों के साथ-साथ बिना फिटनेस वाले धुएं वाले वाहनों पर भी सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के इस चुनौतीपूर्ण समय में, राज्य के लोगों का जीवन बचाना सरकार के लिए सर्वोपरि है।

ये भी देखे : राहुल के भाई-भतीजावाद पर Salman का बयान, ‘कड़ी मेहनत के बल पर शाहरुख-अक्षय इतने सालों तक जिंदा रहे’

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर जर्मनी, ब्रिटेन, फ्रांस, इटली और स्पेन जैसे विकसित देशों में शुरू हुई है। कई देशों को फिर से लॉकडाउन के लिए मजबूर किया गया है। इस स्थिति में कि हम में भी ऐसी स्थिति उत्पन्न नहीं होती है, हमें भी सावधान रहना होगा।

उन्होंने कहा कि राज्य में 2000 डॉक्टरों की भर्ती की प्रक्रिया जल्द पूरी होनी चाहिए। परीक्षा के परिणाम में, चयनित डॉक्टरों को 10 दिनों के भीतर पूरी प्रक्रिया को पूरा करना चाहिए और जल्द ही नियुक्ति दी जानी चाहिए। इससे कोरोना सहित अन्य बीमारियों के इलाज में मदद मिलेगी।

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments