GB RAM

Phone में ज्यादा रैम की जरूरत नहीं, जानिए कितने GB RAM वाला smartphone है बेस्ट?

Phone में ज्यादा रैम की जरूरत नहीं, जानिए कितने GB RAM वाला smartphone है बेस्ट?

आमतौर पर माना जाता है कि ज्यादा रैम का मतलब है बेहतर स्मार्टफोन। लेकिन ऐसा नहीं है कि रैम ज्यादा होगी तो स्मार्टफोन अच्छा रहेगा। एक अच्छे स्मार्टफोन के लिए फोन में रैम के साथ-साथ कई चीजों की जरूरत होती है। तो यह सुपर फास्ट होगा। स्मार्टफोन को सुपर फास्ट बनाने में कई चीजें अहम भूमिका निभाती हैं। ऐसे में सिर्फ ज्यादा रैम वाला स्मार्टफोन लेना समझदारी नहीं है। ऐसे में सवाल उठता है कि ज्यादा रैम वाला स्मार्टफोन क्यों खरीदें? अगर ज्यादा रैम वाला स्मार्टफोन भी जरूरी है तो आइए जानते हैं ऐसे तमाम सवालों के जवाब।

ये भी देखे :- घर, personal loan और auto loan लेने वालों को SBI का तोहफा, जानें कितनी घटी ईएमआई

RAM क्या है

RAM को Random Access Memory कहा जाता है। किसी भी स्मार्टफोन में दो तरह की स्टोरेज दी जाती है, एक है रैम और दूसरी है रोम। जहां आपके फोटो, वीडियो के सभी ऐप्स रोम में स्टोर हो जाते हैं। वही स्टोरेज ऐप, फोटो, वीडियो और गेमिंग रैम पर चलते हैं। फोन में कुछ भी चलाने के लिए रैम की जरूरत होती है। अगर तुम चाहते हो
फोन में किसी भी एप को सुचारू रूप से चलाने के लिए जरूरी है कि फोन में ज्यादा रैम हो। उदाहरण के लिए, यदि आप मल्टीटास्किंग करते हैं, यानी अपने स्मार्टफोन पर गेम खेलते समय, संगीत सुनते हुए और नोटिफिकेशन पर व्हाट्सएप संदेशों का जवाब देना चाहते हैं, तो आपको अधिक रैम की आवश्यकता होगी। अगर रैम कम है तो यह काम धीमा हो सकता है, या फोन में हैंग होने की समस्या हो सकती है।

कितने जीबी रैम सही है

स्मार्टफोन में कितनी जीबी रैम होनी चाहिए, इसका सटीक जवाब नहीं दिया जा सकता, क्योंकि हर स्मार्टफोन यूजर की अलग-अलग जरूरतें होती हैं। जैसा कि आप हैवी गेमिंग के शौकीन हैं तो 8 से 12 जीबी से ज्यादा का स्मार्टफोन लेना बेहतर समझा जाता है। वही 6GB रैम औसत स्मार्टफोन यूजर के लिए काफी है। साथ ही, अगर आप स्मार्टफोन में गेम खेलना पसंद नहीं करते हैं और सीमित रेंज में केवल व्हाट्सएप, फेसबुक जैसे चुनिंदा ऐप का इस्तेमाल करते हैं, तो 4GB रैम भी आपके लिए काफी है।

ये भी देखे :- आप 5 मिनट में internet से पैसा कमाना शुरू कर सकते हैं, समझें कि सिर्फ 3 चरणों में कैसे कमाएं

अधिक RAM से अधिक गति नहीं

स्मार्टफोन की स्पीड कई बातों पर निर्भर करती है। ऐसे में स्मार्टफोन में ज्यादा जीबी रैम होने से स्मार्टफोन फास्ट नहीं होगा। इसके लिए फोन में टॉप-क्लास प्रोसेसर, हाई रिफ्रेश रेट वाला लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम और टच सैंपलिंग रेट वाला डिस्प्ले होना चाहिए। जैसे Apple iPhone कम रैम सपोर्ट के साथ भी अच्छे प्रोसेसर की वजह से काफी बेहतर परफॉर्मेंस देता है।

वर्चुअल रैम क्या है

वर्चुअल रैम का कॉन्सेप्ट हाल ही में पेश किया गया है। दरअसल वर्चुअल रैम को आपके स्टोरेज रोम से अलग करके वर्चुअल रैम बनाया जाता है। मतलब अगर आपको स्मार्टफोन में ज्यादा रैम की जरूरत है तो फोन रैम में जुड़ जाता है जिससे स्टोरेज स्पेस कम हो जाता है।

ये भी देखे :-  शादी (wedding) के तुरंत बाद दुल्हन ने कार में बैठे दूल्हे को थप्पड़ मारना शुरू कर दिया, लोग बोले- हम दुखी हैं दोस्त!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *