petrol

राजस्थान में पेट्रोल (petrol) 100 रुपए के पार, व्यापारियों ने लगाया वैट कम

राजस्थान में पेट्रोल (petrol) 100 रुपए के पार, व्यापारियों ने लगाया वैट कम

NEWS DESK :- राजस्थान में देश में पेट्रोल डीजल पर सबसे अधिक वैट है। राज्य में पेट्रोल पर 38 प्रतिशत और राज्य सरकार से डीजल पर 28 प्रतिशत कर लगता है। कोरोना के दौरान धन जुटाने के लिए, राजस्थान सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर 10 प्रतिशत का अतिरिक्त वैट लगाया है।

राजस्थान में सोमवार को पेट्रोल (petrol) की कीमतें 100 रुपए के पार चली गईं। कुछ दिनों पहले तक लोग इसे व्यंग्य और कटाक्ष के रूप में क्या कहते थे, अब यह राजस्थान में सच साबित हुआ है।राजस्थान के श्रीगंगानगर में सोमवार को पेट्रोल 100 रुपये के पार चला गया। यहां प्रीमियम पेट्रोल 101.54 रुपये प्रति लीटर बिका। जबकि सामान्य पेट्रोल 97.69 रुपये प्रति लीटर बिका। ये भी देखे : – 8 साल पुराने वाहनों के लिए ग्रीन टैक्स मंजूर,नितिन गडकरी ने Green Tax प्रस्‍ताव को दी मंजूरी

पेट्रोल (petrol) की सदी से परेशान व्यापारियों और आम नागरिकों ने राज्य सरकार से संपर्क किया है और राज्य में वैट की दरों को कम करने की मांग की है।बता दें कि राजस्थान में पेट्रोल (petrol) डीजल देश में सबसे ज्यादा वैट है। राज्य में पेट्रोल पर 38 प्रतिशत और राज्य सरकार से डीजल पर 28 प्रतिशत कर लगता है। कोरोना के दौरान धन जुटाने के लिए, राजस्थान सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर 10 प्रतिशत का अतिरिक्त वैट लगाया है। इसके कारण, राज्य में पेट्रोल-डीजल अधिक महंगा हो गया है। ये भी देखे :- कोरोना वैक्सीन , आधार और ओटीपी ( OTP ) कहकर फोन पर धोखाधड़ी

राजस्थान पेट्रोल (petrol) डीजल एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बागई ने राजस्थान सरकार से अपील की है कि वे वैट दर काम करें अन्यथा पेट्रोलियम कारोबार घाटे का सौदा बन रहा है।

इधर, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी राजस्थान सरकार से वैट की दरें कम करने की मांग की है। लेकिन राज्य के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास का कहना है कि पिछले एक महीने में केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 16 गुना वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि अगर मोदी सरकार पेट्रोल (petrol) और डीजल की कीमतों में कमी करती है, तो लोगों को खुद राहत मिलेगी।

ये भी देखे :- कोरोना वैक्सीन ( Corona) के बारे में अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ केंद्र कानूनी कार्रवाई का आदेश देगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *