Thursday, February 22, 2024
a
HomeदेशOTP जैसे आवश्यक SMS प्राप्त करने में आ रही बाधाएं , दूरसंचार...

OTP जैसे आवश्यक SMS प्राप्त करने में आ रही बाधाएं , दूरसंचार कंपनियों ने नए नियम लागू किए

OTP जैसे आवश्यक SMS प्राप्त करने में आ रही बाधाएं , दूरसंचार कंपनियों ने नए नियम लागू किए

NEWS DESK :- अवांछित कॉल पर सरकार की सख्ती के बाद, अब दूरसंचार कंपनियों ने इसके बारे में एक नया नियम लागू किया है। इसके कारण, कुछ उपभोक्ताओं को कोविन प्लेटफॉर्म के माध्यम से आधार OTP , कोविद टीकाकरण जैसे महत्वपूर्ण कार्यों के लिए एसएमएस में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

ये भी देखे :- स्क्रैपिंग पॉलिसी: पुरानी कार (Car) को करें कबाड़, नई खरीदने पर मिलेगी बिग छूट

अनचाही कॉल्स पर सरकार की सख्ती के बाद अब टेलीकॉम कंपनियों ने इसे लेकर एक नया नियम लागू किया है। इसके कारण लाखों ग्राहकों को OTP  जैसे आवश्यक एसएमएस प्राप्त करने में भी कठिनाई हो रही है और यह अगले कुछ दिनों तक बना रह सकता है। इससे कुछ उपभोक्ताओं को कोविन प्लेटफॉर्म के माध्यम से आधार ओटीपी, कोविद टीकाकरण जैसे आवश्यक कार्यों के लिए एसएमएस प्राप्त करने में बाधा का सामना करना पड़ सकता है।

आपको परेशानी क्यों हो रही है

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, दूरसंचार नियामक ट्राई ने दूरसंचार कंपनियों को ग्राहकों के पंजीकरण और मानकीकरण के लिए नए नियमों को लागू करने के लिए कहा है ताकि उपभोक्ताओं को अवांछित पेसकी कॉल और नकली संदेशों की परेशानी से बचाया जा सके। रिलायंस जियो, एयरटेल और वोडाफोन आइडिया ने रविवार रात से इसे लागू कर दिया है। ट्राई का यह नया मानक 2019 से ही लंबित था। लेकिन हाल के वर्षों में, फ़िशिंग हमलों और अवांछित वाणिज्यिक संचार के मामलों की बढ़ती संख्या के कारण, अब इसे सख्ती से लागू किया जा रहा है।

ये भी देखे :- Jaipur :- विशाल मोंट्रोस ने जयपुर के हिवा हेवन रिजॉर्ट में मोंट्रोस रनवे फैशन वीक का आयोजन किया

जल्द ही कोई हल निकलेगा

इसके कारण कई ग्राहकों को सोमवार से कई तरह के जरूरी संदेश मिलने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन टेलीकॉम कंपनियों का कहना है कि इस समस्या को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा। ट्राई ने ऑपरेटरों को अवांछित कॉल और संदेशों को रोकने के लिए ब्लॉकचेन तकनीक का उपयोग करने के लिए कहा था। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) ने वर्ष 2018 में अवांछित कॉल और स्पैम से संबंधित नियमों को बदल दिया।

ये बदलाव नए नियमों को ध्यान में रखते हुए किए गए हैं, जिसमें ग्राहकों को कंपनियों को संदेश भेजने के लिए मंजूरी दी गई है। नियामक ने दूरसंचार ऑपरेटरों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा था कि व्यावसायिक संदेश केवल पंजीकृत संख्याओं के माध्यम से हों।

ये भी देखे :- नए एलपीजी (LPG) कनेक्शन और सिलेंडर बुकिंग नियमों में एक बड़ा बदलाव होगा, अब डीलर से बुक करना सीखें

सरकार ने दिखाई सख्ती

सरकार हाल ही में इस मामले में सख्त हो गई है। ग्राहकों को अवांछित वाणिज्यिक कॉल या एसएमएस भेजने वाली कंपनियों के लिए जुर्माना लगाया जा रहा है। ऐसे ऐप विकसित किए जाएंगे, जिनके जरिए ग्राहक टेलीकॉम कंपनियों को अनचाही कॉल्स, एसएमएस और वित्तीय धोखाधड़ी की शिकायत कर सकेंगे। वित्तीय धोखाधड़ी को रोकने के लिए डिजिटल इंटेलिजेंस यूनिट की स्थापना की जाएगी।

ये भी देखे :- अब ‘आयुष्मान कार्ड’ (Ayushman cards) होगा मुफ्त, कहां और कैसे पाएं 5 लाख का बीमा

हाल ही में दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद की अध्यक्षता में हुई बैठक में ये निर्णय लिए गए। प्रसाद के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में, वाणिज्यिक कॉल की संख्या में वृद्धि के लिए कहा गया था। अधिकारियों ने कहा कि डुओट डिस्टर्ब (डीएनडी) में ग्राहकों के पंजीकरण के बावजूद, वाणिज्यिक कॉल और एसएमएस एक ही नंबर से आते रहते हैं।

ये भी देखे:- आम आदमी को बड़ा झटका, आज फिर बढ़े गैस सिलेंडर (Gas Cylinder) के दाम, 3 महीने में 200 रुपए तक, जानिए नई दरें

प्रसाद ने ऐसी कंपनियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया और उन पर जुर्माने का प्रावधान करने को कहा। निर्देशों में कहा गया है कि नियमों का उल्लंघन करने वाली टेली-मार्केटिंग कंपनियों के कनेक्शन भी काट दिए जाएंगे। मंत्रालय के निर्देश का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए दूरसंचार और टेली-मार्केटिंग कंपनियों के साथ एक बैठक आयोजित की जाएगी।

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments