Monday, April 15, 2024
a

Homeराज्य शहरराजस्थानNews : पावली में करंट से किसान की हुई थी मौत, अंतिम...

News : पावली में करंट से किसान की हुई थी मौत, अंतिम संस्कार नही करने पर अड़े परिजन, देवल व देवासी की मध्यस्थता के बाद मामला सुलझा

News : पावली में करंट से किसान की हुई थी मौत, अंतिम संस्कार नही करने पर अड़े परिजन, देवल व देवासी की मध्यस्थता के बाद मामला सुलझा

भीनमाल के निकटवर्ती पावली गांव में नीजि बिजली कंपनी में कार्यरत नीजि विद्युतकर्मी की करंट से झुलसने से हुई मौत का मामला सामने आने के बाद एवं लोगों के विरोध को देखते हुए प्रशासन सतर्क हो गया था। परन्तु विधायक नारायणसिंह देवल एवं पूर्व उप मुख्य सचेतक रतन देवासी की समझाईश पर नाराज लोग मान गए और प्रशासन को राहत मिली है।

यह है मामला

आपको बताए देते है कि गत 7 नवंबर को पावली गांव निवासी चमनाराम पुत्र अखाराम चौधरी जो कि बिजली विभाग की एक नीजि कंपनी में नौकरी कर रहा था, विद्युत लाईन में आए फाल्ट को ठीक करने के लिए उसे पूरण गांव भेजा था, पीछे से लाईनमैन सुरेन्द्रसिंह व नटवरसिंह ने कनिष्ठ अभियंता के साथ सांठ गांठ कर बंद लाईन में विश्ुत प्रवाह शुरू कर दिया जिससे चमनाराम बुरी तरह झुलस गया। उसे ईलाज के लिए अहमदाबाद भेजा गया। गंभीर रूप से घायल चमनाराम का आपरेशन के बाद कल मौत हो गई। नाराज परिजनों ने डेड बाडी पावली के स्कूल में रख दी और पीडित परिजनों को राहत देने पर अंतिम संस्कार करने की मांग रखी।

ये भी देखे :- बिजली चोरों पर सख्ती: राजधानी में Launch हुई Vigilance App, बिजली चोरों पर रखी जाएगी Online नज़र

विधायक देवल व पूर्व विधायक देवासी पहुंचे मौके पर

आज सुबह घटना की जानकारी मिलने के बाद रानीवाड़ा विधायक नारायणसिंह देवल, पूर्व उप मुख्य सचेतक रतन देवासी, एसडीएम शेलेन्द्रसिंह, डिस्कॉम के अधीक्षण अभियंता, अधिशाषी अभियंता भरत देवड़ा सहित पुलिस विभाग के अधिकारियों का पावली में जमावडा हो गया। मामला गरम होने एवं अधिकारियों के पास ठोस विकल्प नही होने पर देवल व देवासी ने मिलकर ग्रामीणों से समझाईस कर सशर्त मांगों के साथ उन्हे संतुष्ट किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार नीजि कंपनी मृतक के परिजनों को 5.50 लाख, 50 हजार स्टाफ देने की बात कही गई।

ये भी देखे : जल्द ही एंड्रॉइड के Text Messages एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड हो जाएंगे, Google  तैयारी कर रहा है

कलेक्टर ने किए जांच अधिकारी नियुक्त

साथ में पूरे प्रकरण की जांच के लिए जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने जसवंतपुरा एसडीएम शेलेन्द्रसिंह को जांच अधिकारी नियुक्त किया। पुलिससिया जांच के लिए प्रकरण की फाईल को सांचौर डिप्टी विरेन्द्रसिंह को भेजी गई है। साथ में कनिष्ठ अभियंता की भूमिका की जांच तक उसे अन्यंत्र लगाया गया है। बाद में परिजनों ने डेड बाडी को अंतिम संस्कार के लिए शमसान ले जाया गया है। इस तरह प्रशासन सहित बिजली महकमे को राहत मिली है।

भीनमाल। भरत सोनी की रिपोर्ट

ये भी देखे : Love Jihad : राजस्थान में भाजपा-कांग्रेस में बिखराव, शेखावत ने गहलोत के ट्वीट पर किया पलटवार

ये भी देखे: कांग्रेस (Congress) में ऐतिहासिक बदलाव, अब अध्यक्ष पद के लिए चुनाव डिजिटल माध्यम से होगा

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments