Daughter

हरियाणा में परिवार में जन्‍मी तीसरी बेटी (Daughter) बनेगी घर की पहचान, नेम प्लेट शुरू होगी

हरियाणा में परिवार में जन्‍मी तीसरी बेटी (Daughter) बनेगी घर की पहचान, नेम प्लेट शुरू होगी

झज्जर- महिला सशक्तीकरण और बेटी बचाओ बेटी पढाओ की दिशा में, महिला एवं बाल विकास विभाग, मातनहेल खंड की इकाई ने एक नई पहल की है। इसके तहत परिवार में जन्मी तीसरी बेटी के नाम पर घर के बाहर नेम प्लेट लगाई जाएगी।

यह अभियान केवल उन घरों को कवर करेगा, जिनकी तीन वास्तविक बहनें हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उसके भाई हैं या नहीं। वर्तमान में, विभाग ने मथानाहल खंड में 41 परिवारों की पहचान की है, जिसमें तीन बेटियां शामिल हैं। अभियान के एक हिस्से के रूप में, मथानाहल खंड में इन 41 घरों के बाहर तीसरी बेटी के नाम पर एक नेम प्लेट लगाई जाएगी।

ये भी देखे :- Bihar : भागलपुर में 125 लोगों से भरी नाव पलटी, 5 की मौत, करीब 100 लापता

झज्जर के मथनहल खंड में 2020 में पैदा हुई 41 तीसरी बेटियों की पहचान परिवार के रूप में की जाएगी

लिंगानुपात बढ़ाने और बेटियों को बढ़ावा देने के लिए यह कदम उठाया गया है। इससे पहले, महिला और बाल विकास विभाग द्वारा माथनाहल खंड में 2020 के तहत पैदा हुई बेटियों का पता लगाने के लिए एक सर्वेक्षण किया गया था। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और पर्यवेक्षकों की टीम ने 41 बेटियों की सूची तैयार की है।

माताओं को भी सम्मानित किया जाएगा

इसके साथ ही अब आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और पर्यवेक्षक तीसरी बेटी के नाम वाली नेम प्लेट घरों में वितरित करेंगे। साथ ही, तीसरी बेटी को जन्म देने वाली माताओं को भी सम्मानित किया जाएगा। जो अन्य परिवारों को बेटियों को जन्म देने के लिए प्रेरित करेगा। साथ ही कन्या भ्रूण हत्या जैसी कुप्रथा पर रोक लगाई जा सकती है।

ये भी देखे :- अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) की रात हवालात में बीती: बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत पर सुनवाई हो सकती है, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं

हरियाणा सरकार द्वारा चलाए जा रहे बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान को बढ़ाने के लिए, मथनाहल खंड में वर्ष 2020 के दौरान पैदा हुई तीसरी बेटी के नाम पर घर के बाहर नेम प्लेट लगाई जाएगी। इससे माताओं और बेटियों का मनोबल भी बढ़ेगा। घरों के बाहर नेम प्लेट लगाने और माताओं को सम्मानित करने के लिए सराहनीय कदम उठाए जा रहे हैं। जो सकारात्मक परिणाम लाएगा।

– पूनम जैन, महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी, मातनहेल (झज्जर)।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *