Saturday, May 18, 2024
a

Homeधर्म आस्थाMahamandaleshwar Swami Kushalgiri Maharaj महामण्डलेश्वर स्वामी कुशालगिरी महाराज के सानिध्य में गोहितार्थ...

Mahamandaleshwar Swami Kushalgiri Maharaj महामण्डलेश्वर स्वामी कुशालगिरी महाराज के सानिध्य में गोहितार्थ श्रीमद् भागवत कथा

Mahamandaleshwar Swami Kushalgiri Maharaj महामण्डलेश्वर स्वामी कुशालगिरी महाराज के सानिध्य में गोहितार्थ श्रीमद् भागवत कथा

कृष्ण सुदामा जैसी मित्रता वर्तमान में है दुर्लभ- शास्त्री
खोड परिवार ने गोहितार्थ भरा 4 लाख 51 हजार रुपये का मायरा
जो दूसरों की पीड़ा समझता है वहीं आगे बढ़ता हैंः महामण्डलेश्वर


    विश्व स्तरीय गो चिकित्सालय, नागौर में रामदेव खोड, सुजानगढ़ द्वारा आयोजित Mahamandaleshwar Swami Kushalgiri Maharaj महामण्डलेश्वर स्वामी कुशालगिरी महाराज के सानिध्य में गोहितार्थ श्रीमद् भागवत कथा में पं. राजेन्द्र प्रसाद शास्त्री ने सुदामा चरित्र का प्रसंग सुनाते हुए कहा कि सुदामा बड़े विरक्त थे। भोजन मिल जाता तो भोजन कर लेते, किंतु सुदामा की पत्नी के मन में यही रहता कि कुछ धन मिल जाए ताकि परिवार का निर्वाह अच्छे से हो जाये, किंतु सुदामा वैरागी स्वभाव के थे। पत्नी के बार-बार कहने पर वह अपने बचपन के मित्र द्वारकाधीश कृष्ण से मिलने के लिए गये।


    सुदामा के आने की खबर पाकर किस प्रकार श्रीकृष्ण दौड़ते हुए दरवाजे तक गए। ‘पानी परात को हाथ छुयो नहिं, नैनन के जल से पग धोए’। अर्थात श्री कृष्ण अपने बाल सखा सुदामा के आगमन पर उनके पैर धोने के लिए पानी मंगवाया परन्तु सुदामा की दुर्दशा को देखकर इतना दुख हुआ है कि प्रभु के आंसुओं से ही सुदामा के पैर धुल गए। आधुनिक युग में स्वार्थ के लिए लोग एक दूसरे के साथ मित्रता करते हैं और काम निकल जाने पर वे एक दुसरे को भूल जाते है।

    जीवन में प्रत्येक प्राणी को परमात्मा से एक रिश्ता जरूर बनाना चाहिए। भगवान से बनाया गया रिश्ता जीव को मोक्ष की ओर ले जाता है। उन्होंने बताया कि स्वाभिमानी सुदामा ने विपरीत परिस्थितियों में भी अपने सखा कृष्ण का चिंतन और स्मरण नहीं छोड़ा जिसके फलस्वरूप कृष्ण ने भी सुदामा को परम पद प्रदान किया। सुदामा चरित्र की कथा का प्रसंग सुनकर श्रद्धालु भावविभोर हो गये। प्रसंगानुसार राजस्थान की प्रसिद्ध झांकी टीम द्वारा ‘कृष्ण सुदामा मिलन’ व ‘मीरां बाई व राधा कृष्ण’ की दिव्य सजीव झांकी का प्रस्तुतिकरण दिया गया।


    कथा में Mahamandaleshwar Swami Kushalgiri Maharaj महामण्डलेश्वर ने प्रसंग के माध्यम से बताया कि एक राजा को महामंत्री चुनना था और मंत्री चुनने हेतु नगर व आस-पड़ोस के देशों से में भी सूचना दी गई। राजा की परीक्षा में जो विद्वान, प्रखंड अनुभवी वरिष्ठ व्यक्ति पास होगा उस एक को मंत्री चुना जाएगा।

    समय आने पर अनेक विद्वान आये सभी इकठ्ठा होकर सभा में बैठे तब राजा सब की योग्यता को देखकर मंत्री चुनने हेतु सिंघासन से खेड़े हुए, जैसे ही घोषणा करने लगे तब एक विद्वान ब्राह्मण और बोला रूको राजा आप किसी को भी चूने मुझे कोई आपत्ति नहीं है, मैं थोड़ा लेट हो गया हूँ,अगर आपके पास समय है तो एक मेरी भी बाते सुने, राजा ने उसकी बात सुनी, उस विद्वान पण्डित ने कहा इस सभा में सैंकड़ों विद्वावन आये है और बीच रास्ते पर कांटे पड़े थे उस कांटो को हटाया किया ताकि किसी के चुभे नहीं इसलिए मैं थोड़ा विलम्ब हो गया। यह बात सुनते ही राजा ने उस विद्वाव पण्डित की महमंत्री की घोषणा कर दी। यह कांटे राजा ने ही सभी की परीक्षा लेने हेतु बिछाये थे। ताकि पता चले की दुसरों की पीड़ा समझने वालो कौन है इसी का ही राजतिलक होगा।


    कथा प्रभारी श्रवण सैन ने बताया कि अंतिम दिवस पर कथा आयोजनकर्ता रामदेव खोड, सुजानगढ़ निवासी ने 4 लाख 51 हजार रुपये का पीड़ित गोहितार्थ मायरा भरा गया। खोड परिवार का मंच पर तिलक कर, माला, साफा व दुपट्टा पहनाकर स्वागत सम्मान किया गया। मेड़ता निवासी मन्नीराम मुण्डेल व दयालराम मुवाल ने गोहितार्थ 51 हजार रूपये का दुसरा मायरा भरा। कथा विश्राम दिवस पर गोदान हेतु झोली फेरायी गयी जिसमें 22 हजार रुपये से अधिक राशि का सहयोग आया।


    कथा में आगामी 22 अप्रैल को श्री नारायण सेवा समिति मण्डोर व माली संस्थान, जोधपुर के सयुंक्त उपक्रम में अष्ठम् सर्व जाति सामूहिक विवाह समारोह के पोस्टर का विमोचन मनोहरसिंह सांखला, प्रेमसिंह परिहार, श्रवणजी गहलोत व भामाशाह प्रेमसिंह सोलंकी ने Mahamandaleshwar Swami Kushalgiri Maharaj महामण्डलेश्वर के कर-कमलों द्वारा करवाया।


    राधेश्याम सोनी, कानाराम मेघवाल, सोहनराम जी बुड़िया भूपसिंह जाट, आदुराम सारण इत्यादि गोभक्तों ने गोहितार्थ सहयोग किया। सभी दानदाताओं का व्यास पीठ की ओर से स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। कथा श्रवण करने आये श्रद्धालुओं को चाय, पानी, शरबत के साथ बुन्दी व पकोड़ी का प्रसाद दिया गया।

    यह भी पढ़े:- PNB अपने लाखों ग्राहकों को सचेत किया! इस गलती को भूलकर भी न करें, बड़ा नुकसान होगा

    यह भी पढ़े:- सिर्फ 3 लाख के बजट में यहां मिलेगी Hyundai i20, लोन के साथ गारंटी और वारंटी प्लान

    यह भी पढ़े:- Bolero का नया अवतार देगा स्कॉर्पियो को कड़ी टक्कर, दमदार फीचर्स के साथ जल्द होने वाली है लॉन्च

    यह भी पढ़े:- Mahindra Thar : पैनोरमिक सनरूफ के साथ भारत की पहली थार

    यह भी पढ़िए | भारत में लॉन्च  Jeep Meridian SUV, मिलेंगे कई शानदार फीचर्स

    यह भी पढ़े :- जबरदस्त अंदाज में होगी नई Mahindra Scorpio की एंट्री, इसी महीने लॉन्च होगी SUV

    यह भी पढ़े:- 32 km/kg तक का शानदार माइलेज देती है ये शानदार CNG कारें, कीमत है 6 लाख रुपए से कम

    यह भी पढ़े:- Maruti Alto 800 कार सिर्फ 50000 रुपये में घर ले जाये , जानिए कहां से और कैसे

    यह भी पढ़े:- आसान ईएमआई के साथ 1.9 लाख रुपये में Maruti Swift खरीदें, 7 दिन की मनी बैक गारंटी

    लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए –
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Whatsapp से जुड़े
    आवाज़ इंडिया न्यूज़  के समाचार ग्रुप Telegram से जुड़े
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Instagram से जुड़े
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Youtube से जुड़े
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप को Twitter पर फॉलो करें
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Facebook से जुड़े
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप ShareChat पर फॉलो करें
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Daily Hunt पर फॉलो करें
    आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Koo पर फॉलो करें

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -spot_img

    Most Popular

    Recent Comments