Love Jihad

Love Jihad : राजस्थान में भाजपा-कांग्रेस में बिखराव, शेखावत ने गहलोत के ट्वीट पर किया पलटवार

Love Jihad : राजस्थान में भाजपा-कांग्रेस में बिखराव, शेखावत ने गहलोत के ट्वीट पर किया पलटवार

Twitter War on Love Jihad in Rajasthan: सीएम अशोक गहलोत ने आज इस पर बयान देने के बाद केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने उन पर पलटवार किया।

भाजपा शासित उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में पेश किए जाने वाले प्रस्तावित लव जिहाद विधेयक ने राजस्थान की राजनीति में हंगामा मचा दिया है। सीएम अशोक गहलोत के लव जिहाद बिल पर शुक्रवार को दिए गए बयान के बाद अब बीजेपी भी उन पर हमलावर हो गई है।

सीएम गहलोत के ट्वीट के बाद केंद्रीय जल ऊर्जा मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने भी ट्वीट कर गहलोत पर सवाल उठाए हैं। शेखावत ने भी गहलोत के तीन ट्वीट के जवाब में कई ट्वीट किए हैं। वहीं, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी ट्वीट कर कहा कि लव जिहाद पर सीएम गहलोत का बयान आज उनके वोट बैंक की मानसिकता को दर्शाता है।

ये भी देखे: कांग्रेस (Congress) में ऐतिहासिक बदलाव, अब अध्यक्ष पद के लिए चुनाव डिजिटल माध्यम से होगा

शेखावत ने ट्वीट किया कि प्रिय अशोक गहलोत जी, क्या हजारों युवाओं के साथ प्रेम और विवाह के नाम पर धोखे और धर्म परिवर्तन को लव जिहाद नहीं कहा जाएगा? अपने श्रृंखलाबद्ध ट्वीट्स में, शेखावत ने कहा कि यदि विवाह व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला है तो महिलाओं को अपना पहला नाम या धर्म क्यों नहीं आज़ाद है? क्यों लड़कियों के परिवारों को भी अन्य धर्मों को स्वीकार करने के लिए मजबूर किया जाता है? क्या धर्म व्यक्तिगत स्वतंत्रता का मामला नहीं है?

कांग्रेस व्यक्तिगत स्वतंत्रता की आड़ में इस अधिनियम का समर्थन कर रही है

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि चूंकि कांग्रेस व्यक्तिगत स्वतंत्रता की आड़ में इस अधिनियम का समर्थन कर रही है, क्या यह आपका नया सांप्रदायिक एजेंडा है? सत्ता के लालच में हिंदू आतंकवाद, नफरत फैलाना आदि जैसे शब्द गढ़ना कांग्रेस के वर्चस्व वाली हरकतें हैं। शेखावत ने कहा कि भाजपा सभी के समर्थन और विकास में विश्वास करती है। इसलिए हमारी महिलाएं लव जिहाद नामक धोखे और अन्याय के अधीन नहीं होंगी।

ये भी देखे : WhatsApp Update: सभी के लिए जारी किया गया नया फीचर, 7 दिन बाद अपने आप डिलीट हो जाएंगे मैसेज

पूनिया ने कहा कि बयान गहलोत की क्षुद्र मानसिकता को दर्शाता है

पूनिया ने कहा कि उन्हें यकीन नहीं होगा कि वह देशव्यापी दुर्दशा से इतनी विचलित हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि हम सभी जानते हैं कि विवाह सनातन भारत की परंपरा में एक धार्मिक और सामाजिक मान्यता प्राप्त संस्कार है। यह केवल व्यक्ति की स्वतंत्रता तक सीमित नहीं है। पूनिया ने कहा कि उन्हें लगता है कि गहलोत ने जिस तरह से भाजपा पर आरोप लगाया है वह निराधार है। पूनिया कैसे जानते हैं कि हमारी मासूम लड़कियां आज इस्लामिक आतंकवाद के एजेंडे लव जिहाद का शिकार होकर उत्पीड़न का शिकार हैं। ऐसी स्थिति में, गहलोत का बयान निश्चित रूप से उनकी क्षुद्र मानसिकता का परिचायक है।

ये भी पढ़े :- अक्षय ने YouTuber को 500 करोड़ का मानहानि नोटिस भेजा, सुशांत मामले में नाम घसीटा गया

ये भी देखे :- इंदिरा गांधी जयंती: CM Ashok Gehlot आज महिलाओं को ‘मातृत्व पोषण योजना’ का बड़ा तोहफा देंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *