License Smart Card

वाहन चालकों के License Smart Card बने लेकिन घर नहीं पहुचे

पीपाड़ सिटी:- परिवहन निरीक्षक कार्यालय पीपाड़ शहर में बनने वाले वाहन चालकों के स्थाई License Smart Card जोधपुर से जारी होते जो काफी लम्बे समय से वाहन चालकों के घर नहीं पहुंच रहे हैं बेरोजगार युवाओं के सरकारी अर्द्ध सरकारी नौकरियों में आॅन लाईन फार्म भरने से वंचित हो रहे हैं व कई व्यवसायिक चालकों को फैक्ट्रीयो में वाहन चलाने से वंचित होना पड़ रहा है

कोरोना महामारी के लाकडाऊन मे वैसे ही तीन महीने बेरोजगार होना पड़ा अब लाकडाऊन खुलने के बाद लाईसेंस नहीं मिलने से रोजगार पर संकट की विकट स्थिति बनीं हुई है लग भग तीन महीने लाकडाऊन मे बंद से तो समझ में आता है कि सेवायें ठप्प रही परन्तु अब लाकडाऊन खुलने के दो महीने बाद भी सैकड़ो वाहन चालकों के लाईसेंस नहीं मिलने वाहन चालकों को समस्याओं से झुंजना पड़ रहा है चक्कर लगा रहे हैं

जबकि पीपाड़ परिवहन निरीक्षक कार्यालय में रोज पचास साठ लाईसेंस बनने के बाद भी इसी कार्यालय से स्मार्ट कार्ड मशीन सुविधा उपलब्ध होनी चाहिये जो जोधपुर से स्मार्ट कार्ड जारी हो रहे हैं जिसमें विभाग की लापरवाही वाहन चालकों पर भारी पड़ रही हैं

यह भी देखे:- प्राध्यापक संस्कृत शिक्षा Competitive Examination 4 से 7 अगस्त तक 

आज परिवहन निरीक्षक कार्यालय में परिवहन निरीक्षक महेंद्र चौधरी को वाहन चालकों के लाईसेंस नहीं मिलने को लेकर ज्ञापन सौंपा है व स्मार्ट कार्ड मशीन सुविधा पीपाड़ शहर निरीक्षक कार्यालय में उपलब्ध कराने की मांग की व जिन वाहन चालकों के लाईसेंस नहीं मिलने पर उन्हें एक सप्ताह में चालक लाईसेंस दिलवाने की मांग की व विभागीय लापरवाही पर गहरा आक्रोश जताया

ज्ञापन सौंपे जाने वालो में बलदेव चौधरी पुर्व पं स सदस्य ‘ दलित मजदूर मुक्ति मोर्चा के देहात जिला अध्यक्ष बक्सा राम कड़ेला ‘किसान संघ के भंवर सिंह बेंन्दा, एडवोकेट ओमप्रकाश टाक , एडवोकेट राम किशोर मुण्डेल, बुद्धाराम डुडी, रोशनलाल मेघवाल, शंकर लाल विश्नोई, पुर्णनाथ लाम्बा ,दिपक आचार्य व दर्जन भर वाहन चालकों ने परिवहन निरीक्षक महेंद्र चौधरी को प्रादेशिक परिवहन अधिकारी के नाम का ज्ञापन सौंपा व जिन वाहन चालकों के लाईसेंस विभाग द्वारा नहीं मिले उन्हें जल्द से जल्द सात दिवस के भीतर लाईसेंस दिलाने की मांग की है

रिपोर्टर रामनिवास सैनी पीपाड़ सिटी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *