Tuesday, July 23, 2024
a

HomeUncategorizedKoo App : कू ऐप का मालिक कौन है, इसका चीनी कनेक्शन...

Koo App : कू ऐप का मालिक कौन है, इसका चीनी कनेक्शन क्या है?

Koo App : कू ऐप का मालिक कौन है, इसका चीनी कनेक्शन क्या है?

न्यूज़ डेस्क:- घरेलू माइक्रोब्लॉगिंग ऐप कू (Koo) सरकार और ट्विटर पर विवादों के बीच सुर्खियों में है। कू ऐप को पिछले 24 घंटों में 30 लाख से अधिक डाउनलोड प्राप्त हुए हैं। कू ऐप वर्तमान में चार भारतीय भाषाओं हिंदी, तमिल, तेलुगु और कन्नड़ में उपलब्ध है। प्ले स्टोर पर इसके एक मिलियन से अधिक डाउनलोड हैं। इसे बंगलुरू टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड बैंगलोर द्वारा बनाया गया है।

बढ़ती लोकप्रियता के बीच, सवाल यह भी उठ रहे हैं कि कू ऐप का मालिक कौन है? और क्या इसका चीनी संबंध है? कू ऐप के सह-संस्थापक और सीईओ अनमीटेबल राधाकृष्ण हैं। उन्होंने बताया है कि चीनी निवेशक शुनवेई कैपिटल (Shunwei Capital) पूरी तरह से कू की मूल कंपनी से बाहर हो जाएगा और ऐप पूरी तरह से ‘आत्मनिर्भर’ होगा। राधाकृष्ण ने CNBC-TV18 को दिए एक साक्षात्कार में यह बात कही।

ये भी देखें:- एक़ और बैंक पर संकट! RBI ने पैसे निकालने पर रोक लगाई 

एकल अंक में चीनी निवेशक शुनेवेई की हिस्सेदारी

चीनी निवेशक शुनवेई कैपिटल ने कू (Koo) और वोकल की मूल कंपनी बॉम्बिन टेक्नोलॉजीज 2018 में पैसा लगाया था। राधाकृष्ण ने कहा है, ‘शुनवेई ने शुरुआती ब्रांड वोकल में निवेश किया था। हमने अपने व्यवसाय में कू पर ध्यान केंद्रित किया है और अब शुनवेई बाहर निकलने वाला है। हम सच में स्व-विश्वसनीय भारत ऐप हैं। ‘कू के सीईओ ने ट्विटर पर बताया है कि शुनवेई की एकल अंक में कंपनी में हिस्सेदारी है।

Traxxn के अनुसार, 31 मार्च 2019 तक कंपनी में शुनवेई कैपिटल की 11.1 फीसदी हिस्सेदारी थी। कंपनी ने पिछले हफ्ते घोषणा की कि उसने एक्सेल, कलारी कैपिटल, ब्लूम वेंचर्स और 3one4 कैपिटल से 4.1 मिलियन डॉलर जुटाए हैं। कू ने पिछले साल अगस्त में भारत सरकार द्वारा आयोजित आत्मनिर्भर ऐप इनोवेशन चैलेंज जीता था।

ये भी देखे:- बैंक ग्राहकों को मिलेगी विशेष सुविधा, बिना छुए ATM. से पैसे निकालेंगे, जानिए इसकी पूरी प्रक्रिया

शोधकर्ता का दावा है, उपयोगकर्ताओं की व्यक्तिगत जानकारी को लीक करने वाला ऐप

एक फ्रांसीसी सुरक्षा शोधकर्ता ने दावा किया है कि कू ऐप उपयोग करने के लिए बहुत सुरक्षित नहीं है। शोधकर्ता ने कहा है कि यह ऐप उपयोगकर्ताओं की ईमेल आईडी, फोन नंबर और जन्म तिथि जैसी संवेदनशील जानकारी लीक कर रहा है। फ्रांसीसी सुरक्षा शोधकर्ता का नाम रॉबर्ट बैप्टिस्ट है और अपने ट्विटर अकाउंट के कारण वह एलियट एंडरसन के नाम से प्रसिद्ध है।

बैपटिस्ट ने ट्वीट किया, ‘मैंने आपके इशारे पर ऐसा किया है। मैंने 30 मिनट के लिए इस नए कू ऐप का इस्तेमाल किया। यह ऐप उपयोगकर्ता के ईमेल, जन्म तिथि, नाम, वैवाहिक स्थिति, लिंग जैसे व्यक्तिगत डेटा को लीक कर रहा है। एंडरसन ने ट्वीट के साथ स्क्रीनशॉट भी साझा किए। एंडरसन ने पहले आधार प्रणाली की खामियों को उजागर किया।

‘भारतीय भाषाओं में भारत की आवाज’

कुओ ऐप एंड्रॉयड और आईओएस दोनों प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है। साथ ही, इसका एक वेबपेज भी है। कू हाल ही में तब सुर्खियों में आए जब केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर इस माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म से जुड़ने की बात कही। गोयल के अलावा, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, क्रिकेटर अनिल कुंबले, जवागल श्रीनाथ, ईशा फाउंडेशन के जग्गी वासुदेव सहित कई दिग्गज, कू का उपयोग कर रहे हैं। इसके अलावा, कई सरकारी मंत्रालय और विभाग भी कू में शामिल हुए हैं। कंपनी का कहना है कि यह ऐप ‘भारतीय भाषाओं में भारत की आवाज़’ है। कू ऐप को ट्विटर का भारतीय संस्करण कहा जा रहा है।

कू में वर्ण की सीमा 400 शब्द है। कोई भी व्यक्ति अपने मोबाइल नंबर का उपयोग करके केयू में साइन अप कर सकता है। कू के फीचर्स ट्विटर से काफी मिलते-जुलते हैं। यह उपयोगकर्ताओं को लोगों का अनुसरण करने की अनुमति देता है। उपयोगकर्ता पाठ में संदेश लिख सकते हैं या इसे ऑडियो या वीडियो प्रारूप में साझा कर सकते हैं।

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments