airplane

क्या airplane के टॉयलेट की गंदगी हवा में फेंकी जाती है? आज यहां जानिए पूरी सच्चाई

क्या airplane के टॉयलेट की गंदगी हवा में फेंकी जाती है? आज यहां जानिए पूरी सच्चाई

हवाई जहाज में यात्रा करने वाले यात्रियों का मल सीधे शौचालय से नहीं गिरता है। वह हवाई जहाज में ही एक टैंक में इकट्ठा हो जाता है। हवाई यात्रा को सबसे सुरक्षित यात्रा माना जाता है। हवाई जहाज यात्रियों को सुरक्षा के साथ-साथ आरामदायक और तेज सेवाएं प्रदान करता है। भारत में भी बड़े शहरों के अलावा छोटे शहरों को भी हवाई मार्ग से जोड़ा जा रहा है। पहले केवल बड़े और अमीर लोग ही हवाई यात्रा करते थे,

ये भी देखे :- WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को स्वीकार करने का आज आखिरी दिन, नहीं तो आप कई खास फीचर्स का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे

लेकिन अब किफायती सेवाओं के कारण आम आदमी भी बड़े पैमाने पर हवाई यात्रा कर रहा है। अब आपने हवाई जहाज में यात्रा की है या नहीं, एक बहुत ही सरल प्रश्न है जो कभी न कभी आपके मन में आया होगा। जी हाँ, आपने भी एक बार अपने दिमाग पर ध्यान दिया होगा कि हवाई जहाज में सफर करने वाले लोगों का मलमूत्र कहाँ जाता है? आपके दिमाग में यह भी आया होगा कि यात्रियों का स्टूल टॉयलेट से निकलकर हवा में उड़ते हुए हवा में गिर जाता है? आज हम आपको इसी पुराने सवाल का जवाब देने जा रहे हैं।

ये भी देखे:- कोरोना काल में फ्रॉड से बचें, मोबाइल कंपनियों के KYC के नाम पर ठग रहे है लोग

कहां जाती है हवाई जहाज के यात्रियों की गंदगी

इस सवाल का पूरा जवाब जानने से पहले आपको यह जान लेना चाहिए कि हवाई जहाज में सफर करने वाले यात्रियों का मल सीधे टॉयलेट से नहीं गिरता है. वह हवाई जहाज में ही एक टैंक में इकट्ठा हो जाता है। दरअसल, वर्तमान में लगभग सभी हवाई जहाजों में वैक्यूम टॉयलेट होते हैं। पानी का इस्तेमाल हवाई जहाज के टॉयलेट को फ्लश करने के लिए नहीं किया जाता है, यह वैक्यूम सिस्टम के जरिए कमोड से सीधे टैंक तक जाता है। प्लेन का वैक्यूम टॉयलेट पानी और ठोस सीवेज को अलग करता है। सभी हवाई जहाजों के पीछे एक विशेष प्रकार का टैंक होता है, जहां यात्रियों का सारा मल एकत्र किया जाता है। इस टैंक की क्षमता करीब 200 लीटर है।

ये भी देखे:-  EPF: यदि आप अपना UAN भूल गए हैं, तो जानें कि यह कैसे पता करे

हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद फ्लाइट के शौचालय खाली हो जाते हैं

यात्रा खत्म होने के बाद जब फ्लाइट एयरपोर्ट पर पहुंचती है तो वहां मौजूद टॉयलेट स्टाफ एक खास तरह का लैवेटरी टैंक लेकर प्लेन में जाता है. कर्मचारी शौचालय के टैंक में 3-4 इंच चौड़ी नली को जहाज के शौचालय टैंक से जोड़ता है और फिर लीवर को घुमाता है। जैसे ही लीवर मुड़ता है, जहाज के टॉयलेट टैंक में जमा सारा सीवेज कुछ ही मिनटों में खाली हो जाता है, जो जहाज के टैंक से निकलकर शौचालय टैंक में पहुंच जाता है। इसके बाद इन शौचालयों को दूसरी जगह ले जाकर खाली कराया जाता है। तो इस तरह से हवाई जहाज के टॉयलेट टैंक को साफ किया जाता है। अब आशा करते हैं कि आपको इस बड़े प्रश्न का उत्तर मिल गया होगा।

ये भी देखे:- Android Tips: फोन चार्ज करते समय न करें 5 गलतियां, हो सकता है बड़ा नुकसान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *