Wednesday, June 19, 2024
a

Homeलाइफस्टाइलयदि आप 3 महीने तक खाद्यान्न नहीं लेते हैं, तो आपका Ration...

यदि आप 3 महीने तक खाद्यान्न नहीं लेते हैं, तो आपका Ration Card रद्द हो सकता है

यदि आप 3 महीने तक खाद्यान्न नहीं लेते हैं, तो आपका Ration Card रद्द हो सकता है

न्यूज़ डेस्क: राशन कार्ड (Ration Card) केवल जरूरतमंदों को लाभ देता है, न कि जिन्हें इसकी जरूरत नहीं है, इसलिए केंद्र सरकार के निर्देश पर, राज्य सरकारों ने राशन कार्ड के बारे में एक नई गाइडलाइन जारी की है।

आर्थिक रूप से कमजोर और गरीब लोगों को बहुत अधिक भोजन प्राप्त करने में सक्षम बनाने के लिए, सरकार ने ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ योजना शुरू की, ताकि यदि कोई व्यक्ति किसी अन्य राज्य में जाता है, तो उसे वहां भी आसानी से राशन मिल सके।

राशन कार्ड प्रणाली के तहत, सरकार जरूरतमंदों को खाद्यान्न प्राप्त करने का प्रयास कर सकती है, इसलिए समय-समय पर, व्यावहारिक कारणों से, यह अपने नियमों को भी बदलता है।

नए दिशानिर्देशों के अनुसार, यदि किसी व्यक्ति ने तीन महीने के लिए राशन कार्ड का उपयोग नहीं किया है, तो यह माना जाएगा कि वह सक्षम है। और उसे राशन कार्ड की आवश्यकता नहीं है, इसलिए उसका राशन कार्ड रद्द कर दिया जाएगा।

ये भी देखे: Gmail में नया अपडेट, माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस दस्तावेज़ को Edit करने में सक्षम होगा

यदि आपने 3 महीने से राशन नहीं लिया है तो राशन कार्ड रद्द कर दिया गया है

कोरोना महामारी के बीच देश कई चुनौतियों से गुजर रहा है, ऐसे में गरीबों के लिए खाद्यान्न की व्यवस्था करना राज्य सरकारों के लिए भी एक बड़ी चुनौती है। कई राज्य सरकारों ने राशन कार्ड के संबंध में नए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

जिसके अनुसार, अगर किसी ने तीन महीने से राशन नहीं लिया है, तो उसका राशन कार्ड रद्द किया जा सकता है। उत्तर भारत के कई राज्यों जैसे बिहार, मध्य प्रदेश ने भी इसे लागू करना शुरू कर दिया है।

केवल जरूरतमंद को अनाज मिला

इस दिशा में, उत्तर प्रदेश के खाद्य आपूर्ति विभाग ने हर जिले से इस संबंध में एक रिपोर्ट भी तलब की है। रिपोर्ट आने के बाद यूपी सरकार भी इस दिशा में कदम उठा सकती है।

इसके पीछे सोच यह है कि यदि कोई व्यक्ति तीन महीने से राशन कार्ड से राशन नहीं ले रहा है, तो इसका मतलब है कि वह अपना अनाज खरीदने के लिए आर्थिक रूप से सक्षम है। इसलिए, राशन कार्ड का लाभ किसी अन्य व्यक्ति को दिया जा सकता है, जिसे उसे और अधिक की आवश्यकता होगी।

ये भी देखे:- Gehlot Government की पहली वर्षगांठ पर शुरू होने वाली 3 नई योजनाएं, कार्यक्रम 3 दिनों तक चलेगा

4.39 करोड़ फर्जी राशन कार्ड रद्द

आपको बता दें कि 2013 से अब तक 4.39 करोड़ फर्जी राशन कार्ड रद्द किए जा चुके हैं। सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) के तहत लाभार्थियों की सही संख्या जानने के लिए ये कदम उठाए।

PDS (सार्वजनिक वितरण प्रणाली) में पारदर्शिता लाने के लिए, सरकार ने लाभार्थियों का एक डिजिटल डेटाबेस तैयार किया है। लाभार्थियों को अयोग्य और नकली राशन कार्ड का पता लगाने में मदद करने के लिए आधार से लिंक करना अनिवार्य कर दिया गया है।

वन नेशन वन राशन कार्ड लागू

  • केंद्र सरकार ने 31 मार्च 2021 तक पूरे देश में वन वेशन वन राशन कार्ड योजना को लागू करने की योजना बनाई है। इससे राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत सभी 81 करोड़ लाभार्थियों को लाभ होगा।
  • राष्ट्रीय पोर्टेबिलिटी सुविधा यानी वन नेशन वन राशन कार्ड देश के 28 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू किया गया है।

ये भी देखे: LIC की यह Policy से होती है जिंदगी भर कमाई, इसके अन्य लाभों को जानें

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments