Monday, April 15, 2024
a

Homeटेक ज्ञानफोन में Bank विवरण है तो , इसे तुरंत हटाएं, BlackRock खाता...

फोन में Bank विवरण है तो , इसे तुरंत हटाएं, BlackRock खाता खाली कर देगा

फोन में Bank विवरण है तो , इसे तुरंत हटाएं, BlackRock खाता खाली कर देगा

अगर आप भी अपने बैंक अकाउंट का पासवर्ड, एटीएम पिन या इंटरनेट बैंकिंग की जानकारी अपने फोन में सहेज कर रखते हैं, तो यह खबर सिर्फ आपके लिए है, क्योंकि एंड्रॉइड फोन के लिए एक नया वायरस आ गया है, जो केवल आपके बैंक की जानकारी से संबंधित है। केवल चोरी करता है इस वायरस का नाम ब्लैकरॉक है।

BlackRock Android मैलवेयर

भारत सरकार की साइबर एजेंसी ने भी लोगों को BlackRock Android मैलवेयर के बारे में चेतावनी दी है। यह मैलवेयर लगभग 337 एंड्रॉइड ऐप से जानकारी चुराने में सक्षम है। जिन ऐप्स से यह डेटा चुरा सकता है, उनमें जीमेल, अमेज़न, नेटफ्लिक्स और उबर जैसे ऐप के नाम शामिल हैं।

यह भी देखें:- Ram temple दान स्कैम से बचने के लिए LOGO पेटेंट कराएगा ट्रस्ट

मैलवेयर

मोबाइल सुरक्षा फर्म ThreatFabric को सबसे पहले BlackRock मालवेयर के बारे में बताया गया। BlackRock मालवेयर किसी भी आम मालवेयर की तरह ही डेटा चोरी करता था। यह मालवेयर स्ट्रेन Xerxes के सोर्स कोड पर आधारित है।

बैंक ऑनलाइन धोखाधड़ी

यह मालवेयर किसी ऐप में लॉगिन के दौरान यूजर्स का डेटा चुरा लेता था। उदाहरण के लिए, यदि आप पासवर्ड और उपयोगकर्ता आईडी दर्ज करके अपने फोन में बैंकिंग ऐप में लॉग इन कर रहे हैं, तो यह मैलवेयर इसे रिकॉर्ड करने के लिए उपयोग किया जाता है। वह तकनीक जिसके द्वारा डेटा चोरी करने के लिए उपयोग किए जाने वाले मैलवेयर को ओवरले कहा जाता है।

यह भी देखें:- Corona Vaccine कब? PM Modi बोले- देश में 3 पर ट्रायल जारी, बड़े पैमाने पर होगा प्रोडक्शन

Android मैलवेयर

इस तकनीक के तहत, मैलवेयर ऐप उपयोगकर्ताओं के साथ एक नकली वेब पेज पर लॉगिन करते हैं, जबकि उपयोगकर्ता इसे मूल पृष्ठ मानता है। यह मालवेयर यूजर से मैसेज, कैमरा, गैलरी आदि को एक्सेस करता था। यह मैलवेयर यूजर को नकली गूगल अपडेट नोटिफिकेशन देने के लिए भी इस्तेमाल करता था।

BlackRock से कैसे बचें

यह ऐप आमतौर पर एंटीवायरस ऐप्स को चकमा देता है। ऐसे में आपके लिए यही अच्छा होगा कि आप किसी भी थर्ड पार्टी स्टोर या सोर्स से अपने फोन पर कोई भी ऐप डाउनलोड न करें। इसके अलावा, थर्ड पार्टी ब्राउजर ऐप का उपयोग करने से बचें और फोन पर इंस्टॉल करने से पहले बैंक ऐप की जांच करें।

यह भी देखें:- PM Modi की घोषणा- सेना एनसीसी कैडेटों को प्रशिक्षित करेगी


Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments