Friday, February 23, 2024
a

Homeहटके ख़बरेअगर आपका बच्चा भी मोबाइल से चिपका है तो उसकी मोबाइल की...

अगर आपका बच्चा भी मोबाइल से चिपका है तो उसकी मोबाइल की लत से छुटकारा पाने के लिए आजमाएं ये टिप्स

अगर आपका बच्चा भी मोबाइल से चिपका है तो उसकी मोबाइल की लत से छुटकारा पाने के लिए आजमाएं ये टिप्स

Parenting Tips: इन आसान टिप्स की मदद से बच्चों को मोबाइल पर जिद करने से रोका जा सकता है। आप इन्हें भी आजमा सकते हैं।मोबाइल और इंटरनेट के इस दौर में स्मार्टफोन हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन गया है। इसके इस्तेमाल से जहां एक ओर जहां रोजमर्रा के कई काम आसान हो गए हैं, वहीं दूसरी ओर एक और समस्या भी खड़ी हो गई है। मोबाइल फोन से चिपके रहने वाले बच्चों की नई पीढ़ी की यही समस्या है। लगभग हर माता-पिता की एक समस्या होती है कि उनका बच्चा दिन भर मोबाइल फोन में व्यस्त रहता है। यह आदत अब बच्चों में लत बनती जा रही है। इससे न सिर्फ उनका विकास रुक रहा है, बल्कि कई मानसिक समस्याएं भी जन्म ले रही हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे जो बच्चे को मोबाइल फोन से दूर रखने में मदद कर सकते हैं। बच्चों को मोबाइल इस्तेमाल करने से कैसे रोकें बच्चों को फोन इस्तेमाल करने से कैसे रोकें

यह भी पढ़े:- Maruti की 7-सीटर कारें खरीदें ऑल्टो से सस्ती! महज ₹ 2.90 लाख में बिक रही अर्टिगा, यहां लगे पुराने वाहनों की बिक्री

बाहर खेले जाने वाले खेल

पिछले करीब दो साल में कोरोना की वजह से बच्चे घरों में कैद हैं. साफ है कि उनमें मैदानी खेल खेलने की आदत कम हो गई है। ऐसे में जरूरी है कि उन्हें घर से बाहर जाकर फिर से मैदान में खेलने के लिए प्रेरित किया जाए। हो सके तो खुद उनके साथ कुछ आउटडोर गेम्स में शामिल हों।

प्रकृति और पर्यावरण से प्यार

बच्चों को प्रकृति और पर्यावरण से जोड़ने का प्रयास करें। उन्हें जंगल, जानवरों और पानी के महत्व के बारे में जागरूक करें। उन्हें ऐसी जगहों पर ले जाएं जहां वे प्राकृतिक सुंदरता को देख सकें और महसूस कर सकें। इसके लिए किसी महंगे हिल स्टेशन या पर्यटन स्थल पर जाने की जरूरत नहीं है। बच्चों को घर के पास किसी पार्क या तालाब में भी ले जाया जा सकता है।

यह भी पढ़े:- आप भी खरीद सकते हैं Maruti Alto कार मोटरसाइकिल की कीमत में, सिर्फ 49 हजार रुपये में

किताबों में रुचि जगाएं

इंटरनेट के इस दौर में लोगों की किताबों से दूरी बढ़ती जा रही है. ऐसे में जरूरी है कि हम खुद अच्छी किताबें पढ़ने की आदत डालें और बच्चों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करें। बच्चों को उनकी रुचि के अनुसार अच्छी और रोचक किताबें उपलब्ध कराएं। उनके साथ किताबों के बारे में भी चर्चा करें। इससे उनकी किताबों में रुचि बढ़ेगी।

घर के साधारण कामों में मदद लें

घर के साधारण कामों में बच्चों की मदद लें जैसे कपड़े सुखाना, उन्हें दबाना, अपने कमरे की सफाई करना, पानी भरना, पौधों को पानी देना आदि। उन्हें उनकी रुचि के अनुसार रसोई के काम में मदद करने के लिए कहें। इससे बच्चे न सिर्फ मोबाइल से दूर रहेंगे, बल्कि खेल-कूद में भी कई चीजें सीखेंगे।

मोबाइल पासवर्ड

आप मोबाइल फोन में पासवर्ड भी डाल सकते हैं ताकि बच्चा आपकी अनुमति के बिना फोन का इस्तेमाल न कर सके।

यह भी पढ़े:- 3 लाख की कीमत के साथ Mahindra Atom बन जाएगी देश की सबसे सस्ती EV! मिलेगी शानदार सुविधाएं

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए –
आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Whatsapp से जुड़े
आवाज़ इंडिया न्यूज़  के समाचार ग्रुप Telegram से जुड़े
आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Instagram से जुड़े
आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Youtube से जुड़े
आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप को Twitter पर फॉलो करें
आवाज़ इंडिया न्यूज़ के समाचार ग्रुप Facebook से जुड़े

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments