Gurjar

सरकार को गुर्जर (Gurjar) का अल्टीमेटम – कल से पूरे राजस्थान में सड़क और रेल मार्ग जाम कर देंगे

सरकार को गुर्जर (Gurjar) का अल्टीमेटम – कल से पूरे राजस्थान में सड़क और रेल मार्ग जाम कर देंगे

आरक्षण की मांग कर रहे गुर्जर(Gurjar) नेताओं ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर रविवार शाम तक उनकी मांगें पूरी नहीं हुईं तो वे सोमवार से पूरे राजस्थान में रेल से सड़क तक जाम करेंगे।

आरक्षण की मांग को लेकर राजस्थान में गुर्जर समुदाय का आंदोलन पिछले कई दिनों से लगातार चल रहा है। रेलवे पटरियों पर खड़े गुर्जर नेताओं ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर रविवार शाम तक उनकी मांगें पूरी नहीं हुईं तो वे सोमवार से पूरे राजस्थान में रेल से लेकर सड़क तक हर जगह सड़क जाम करेंगे।

ये भी देखे :- अमेरिका में Joe Biden (जो बिडेन) राज, 5 लाख भारतीयों को मिलेगा नागरिकता लाभ!

गुर्जर नेताओं ने पूरे राजस्थान को अवरुद्ध करने के लिए आज यानि रविवार को एक बैठक बुलाई। कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला (Gurjar Leader Bainsla) चक्का जाम पर अंतिम फैसला लेंगे। इसकी तैयारी के लिए, उन्होंने हिंडौन से दौसा और सिकंदरा तक बैठकें की हैं। जिसमें गुर्जर समुदाय के लोगों ने कहा कि अगर रविवार शाम तक सरकार की ओर से कोई ठोस प्रस्ताव नहीं आया या कोई बातचीत के लिए नहीं आया, तो कल यानि सोमवार सुबह से पूरे राजस्थान में जगह-जगह जाम लग जाएगा।

बैंसला ने कहा कि सरकार हमें आंदोलन करने के लिए मजबूर कर रही है। हमारी 6 मांगें हैं, अगर सरकार उनसे सहमत है तो हम आंदोलन नहीं करना चाहते। उन्होंने कहा कि सरकार की दोहरी नीति के कारण लगभग 35 हजार गुर्जरों को नौकरी नहीं मिल रही है।

आपको बता दें कि बैंसला के बंद कमरे में पंच पटेलों के साथ दिन भर की बैठक की खबर मिलते ही, गुर्जरों ने राजस्थान में कई जगहों पर कई घंटों के लिए सड़क को अवरुद्ध कर दिया। जिसके कारण लोग दिनभर परेशान होते रहे। बयाना और सवाई माधोपुर में 10 से 12 घंटे तक सड़क जाम रही।

ये भी देखे :- Dhanteras 2020 : अगर आप धनतेरस पर सोना और चांदी नहीं खरीद सकते हैं, तो लायें ये पांच चीजे, मां लक्ष्मी अपार संपत्ति से भर देंगी घर

इस बीच, यह माना जाता है कि सरकार बैंसला के उग्र रूप को देखते हुए बातचीत करने पर सहमत हुई है। गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक बैंसला से बात करने के लिए सरकार खेल मंत्री अशोक चांदना को फिर से भेज सकती है। बता दें कि गुर्जर आंदोलन के कारण भरतपुर, करौली और दौसा जिलों में सामान्य जनजीवन अभी भी बुरी तरह प्रभावित है।

गुर्जर आंदोलन के कारण, रेलवे ने कई ट्रेनों के मार्गों को मोड़ दिया है। वहीं, कुछ ट्रेनों को रद्द भी किया गया है। राजस्थान रोडवेज की बसें बंद होने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा इंटरनेट सेवाओं के बंद होने से जनजीवन प्रभावित हुआ है।

ये भी देखे :- Baba Ka Dhaba : बाबा के खाते में 40 लाख से अधिक, कई अमीर होने की कहानी में आए कई मोड़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *