Google

Google ने इन 3 एंड्रॉइड ऐप्स को प्ले स्टोर से डेटा चोरी करने पर किया बाहर, आप इसे तुरंत हटा भी सकते हैं

Google ने इन 3 एंड्रॉइड ऐप्स को प्ले स्टोर से डेटा चोरी करने पर किया बाहर, आप इसे तुरंत हटा भी सकते हैं

Google Play Store, Kids Apps: इस बार Google ने Play Store से 3 मोबाइल्स ऐप्स को हटा दिया है। आप इन एंड्रॉइड ऐप्स के बारे में अधिक जान सकते हैं और उन्हें फोन से तुरंत हटा सकते हैं, आपको बता दें कि इन तीनों ऐप के कुल मिलाकर 20 मिलियन से अधिक डाउनलोड हैं।

एंड्रॉइड ऐप, गूगल प्ले स्टोर: कई बार गूगल प्ले स्टोर पर मोबाइल ऐप होते हैं जो यूजर्स को नुकसान पहुंचाते हैं, ऐसे में इन ऐप्स के बारे में जानने के बाद गूगल तुरंत उन्हें प्ले स्टोर से हटा देता है। आपको बता दें कि इस बार Google Play Store से तीन ऐसे ही खतरनाक एप्स को हटाया गया है।

ये भी देखे :- Flipkart की बिग दिवाली बिक्री शुरू होगी, 1 रुपये में मोबाइल सुरक्षा, टीवी और घरेलू उपकरणों पर 80% तक की छूट

इन तीनों बच्चों के ऐप उनका डेटा चुरा रहे थे और डिजिटल अकाउंटेबिलिटी काउंसिल (IDCA) द्वारा चिंता जताई जा रही थी। आपको अपने फोन से इन ऐप्स को तुरंत डिलीट भी कर देना चाहिए।

Kids Apps Google Play Store:ये डिलीट हुए एप्स

डिजिटल अकाउंटेबिलिटी काउंसिल (IDCA) ने उन मोबाइल ऐप के बारे में जानकारी दी है जो बच्चों का डेटा चुरा रहे थे। आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि कैट्स एंड कॉसप्ले के अलावा गूगल प्ले स्टोर से नंबर कलरिंग और प्रिंसेस सैलून ऐप्स को हटा दिया गया है।

आपको बता दें कि इन तीनों एंड्रॉइड ऐप के कुल मिलाकर 20 मिलियन से अधिक डाउनलोड हैं। IDCA ने पाया कि ये मोबाइल ऐप उपयोगकर्ताओं से डेटा एकत्र करके Google Play Store के नियमों का उल्लंघन कर रहे थे।

ये भी देखे :- Jio ने लॉन्च किया अपना वेब ब्राउजर JioPages, मजबूत डेटा सिक्योरिटी का दावा

ये एंड्रॉइड ऐप किस तरह का डेटा इकट्ठा कर रहे थे, फिलहाल इसका पता नहीं चल पाया है, लेकिन बच्चों के डेटा को इकट्ठा करने वाले मोबाइल ऐप को लेकर गूगल के नियम सख्त हैं।

यह पहली बार नहीं है जब Google ने Play Store से ऐप्स हटाए हैं। Google ऐसे खतरनाक ऐप्स को हटाता रहता है और उपयोगकर्ताओं को उनके बारे में जानने के बाद तुरंत इन ऐप्स को हटाने की सलाह दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *