Saturday, May 18, 2024
a

HomeदेशTikri Border (टिकरी बॉर्डर) पर किसान ने फांसी लगाईं , सुसाइड नोट...

Tikri Border (टिकरी बॉर्डर) पर किसान ने फांसी लगाईं , सुसाइड नोट पर लिखा- तारीख पर तारीख दे रही सरकार

Tikri Border (टिकरी बॉर्डर) पर किसान ने फांसी लगाईं , सुसाइड नोट पर लिखा- तारीख पर तारीख दे रही सरकार

न्यूज़ डेस्क:- हरियाणा के बहादुरगढ़ में तीन कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार से नाराज एक किसान ने फांसी लगा ली। किसान ने सेक्टर -9 बाईपास के पार्क में पेड़ से लटककर खुदकुशी कर ली। किसान की पहचान जींद में सिंघवाल गांव के कर्मबीर के रूप में की गई थी। मृतक कर्मबीर के पास से एक सुसाइड नोट मिला है।

सुसाइड नोट पर लिखा है कि सरकार तारीख पर तारीख दे रही है। न जाने ये काले कानून कब निरस्त हो जाएंगे। जब तक काले कानून रद्द नहीं होंगे, हम यहां से नहीं जाएंगे। उधर, पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया है। परिजनों के आने के बाद उनके बयान दर्ज किए जाएंगे।

ये भी देखे:- इस योजना में LPG कनेक्शन मुफ्त में उपलब्ध होगा और 1600 रुपये में, जानिए कि आप कैसे लाभ उठा सकते हैं

दो और किसानों की मौत

टिक्की सीमा पर ही दो और किसानों की मौत की सूचना है। एक किसान पंजाब के संगरूर का था और दूसरा मोगा जिले का। हालांकि मौत के कारण की अभी पुष्टि नहीं हुई है। अनुमान लगाया जा रहा है कि दोनों की मौत हार्ट अटैक के कारण हुई है। मरने वालों में एक 60 का और दूसरा 70 का था।

मानसा और जींद के किसानों ने अपनी जान गंवाई

पंजाब के एक किसान की नए गाँव के चौक के पास बस की चपेट में आने से मौत हो गई, जबकि जींद जिले के एक किसान को दिल का दौरा पड़ने की आशंका थी। पुलिस ने दोनों के शव उनके परिजनों को सौंप दिए हैं।

पंजाब के मानसा जिले के ग्राम बाघरा के रहने वाले किसान बबली सिंह सीमा पर आंदोलन में शामिल थे। वह बहादुरगढ़ बाईपास पर नयागांव चौक के पास किसानों के जत्थे में रह रहे थे। 2 फरवरी को वह आंदोलन में भाग लेने के लिए बहादुरगढ़ आए।

ये भी देखे:- REET Exam के लेवल फर्स्ट में B.Ed धारकों को शामिल करने के निर्देश

शुक्रवार दोपहर को बबली अपने साथी किसान मेजर सिंह के साथ लंगर लेने जा रही थी। जब वे नयागांव चौक के पास सड़क पार कर रहे थे, तो वे बादली से आ रही बस में फंस गए। घटना में वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे इलाज के लिए बहादुरगढ़ के सिविल अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

जींद के गांव मोहनगढ़ के किसान रणधीर सिंह की अचानक तबीयत बिगड़ने से मौत हो गई। बताया गया है कि रणधीर सिंह तीन सप्ताह तक टिकी सीमा पर लगभग हर दिन किसानों की बैठक में भाग लेते थे। रणधीर सिंह की मौत का सही कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। दिल का दौरा पड़ने की भविष्यवाणी की।

ये भी देखे:- फोटो को PAN Card में इस तरह बदला जा सकता है, अपनाएं ये प्रोसेस..

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments