Wednesday, April 24, 2024
a

HomeदेशEPFO News: नौकरी छोड़ने के बाद भी PF अकाउंट पर मिलेगा ब्याज,...

EPFO News: नौकरी छोड़ने के बाद भी PF अकाउंट पर मिलेगा ब्याज, जानें पूरी प्रक्रिया

EPFO News: नौकरी छोड़ने के बाद भी PF अकाउंट पर मिलेगा ब्याज, जानें पूरी प्रक्रिया

EPFO News: देश में कोरोना ने कहर नहीं बरपाया इस वायरस के कारण लाखों लोगों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा। वहीं, संक्रमण के कारण कर्मचारियों को अपने शहरों और गांवों की ओर रुख करना पड़ता है। कई कर्मचारी नौकरी छोड़कर दूसरी संस्था में शामिल हो गए। इसके अलावा, ऐसे कई लोग हैं जिन्होंने समय से पहले सेवानिवृत्ति ले ली है। वास्तव में, अक्सर कर्मचारी नौकरी से इस्तीफा देने के बाद ईपीएफओ में स्थानांतरित नहीं होते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कि पीएफ खाते और उसमें जमा धन का क्या होता है।

पीएफ खाते में मिला ब्याज

अगर 36 महीनों के लिए पीएफ खाते में कोई योगदान नहीं है, तो खाता निष्क्रिय श्रेणी में चला जाता है। ऐसी स्थिति में, खाते को चालू रखने के लिए, तीन साल से पहले कुछ राशि निकालना आवश्यक है। ईपीएफओ (EPFO) के मौजूदा नियमों के तहत अगर कोई 55 साल की उम्र में रिटायरमेंट लेता है। 36 महीनों के भीतर जमा राशि की वापसी के लिए आवेदन करना आवश्यक है, अन्यथा खाता निष्क्रिय हो जाता है। ऐसी स्थिति में, संस्था छोड़ने के बाद भी, पीएफ खाते में ब्याज मिलता रहेगा और 55 वर्ष की आयु तक बंद नहीं होगा।

ये भी देखे:- पेटेंट के उल्लंघन के मामले में Apple दोषी करार, कंपनी पर 2235 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया

राशि पर प्राप्त ब्याज पर कर

नियमों के तहत, पीएफ खाता गैर-योगदान के लिए निष्क्रिय नहीं होता है, लेकिन प्राप्त ब्याज पर कर का भुगतान करना पड़ता है। अगर ईपीएफ खाता निष्क्रिय नहीं है, तो यह राशि वरिष्ठ नागरिक कल्याण कोष में जाती है। बता दें कि यदि खाता 7 साल तक निष्क्रिय रहता है तो लावारिस राशि को फंड में ट्रांसफर किया जा सकता है।

कल्याण कोष में हस्तांतरण राशि पर दावा

पीएफ अकाउंट ट्रांसफर लावारिस हैं और 25 साल के लिए वरिष्ठ नागरिक कल्याण कोष में रहते हैं। इस समय के दौरान, ग्राहक राशि का दावा कर सकते हैं। गौरतलब है कि पुराने संस्थान को ईपीएफओ का पैसा छोड़ने से कोई फायदा नहीं होता है, क्योंकि अर्जित ब्याज पर कर लगता है।

ये भी देखे:- SBI, PNB, HDFC, ICICI और Axis Bank के ग्राहक ध्यान दें! इस लिंक को क्लिक न करें, जानिए पूरी बात?

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments