Sunday, June 23, 2024
a

Homeटेक ज्ञानक्या आप कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) लगवाना चाहते हैं? फिर मोबाइल नंबर...

क्या आप कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) लगवाना चाहते हैं? फिर मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करें, सरकार ने आदेश दिया

क्या आप कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) लगवाना चाहते हैं? फिर मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करें, सरकार ने आदेश दिया

NEWS DESK :- (Corona vaccine) आधार नंबर को मोबाइल नंबर से लिंक करें ताकि टीकाकरण के लिए एसएमएस भेजने की सुविधा हो। आपके टीकाकरण के लिए आधार प्रमाण होना बहुत जरूरी हैआपके टीकाकरण के लिए आधार प्रमाण होना बहुत जरूरी है। यह आपको यह जानने की अनुमति देगा कि आपके पास पहली और दूसरी खुराक कब है। ये भी देखे :- दानवीर दिहारी मिस्त्री राम मंदिर ( Ram Mandir ) निर्माण के लिए मिसाल बन गए, जानिए इतना पैसा दान कर दिया

कोरोना की लड़ाई जीतने के लिए देश में 16 जनवरी से वैक्सीन अभियान शुरू हो गया है। कोरोना वैक्सीन  (Corona vaccine) के पहले चरण में, 3 मिलियन कोरोना वारियर्स का टीकाकरण किया जा रहा है। केंद्र सरकार ने राज्यों को टीका अभियान पर पूरी नजर रखने के लिए कहा है, कि वे लोगों के आधार नंबर को मोबाइल नंबर से लिंक करें, ताकि टीकाकरण के लिए एसएमएस भेजने की सुविधा हो। टीकाकरण के लिए आधार प्रमाण होना बहुत जरूरी है। यह आपको यह जानने की अनुमति देगा कि आपके पास पहली और दूसरी खुराक कब है।

हिंदू बिजनेसलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, यदि आप इन दोनों टीकों को प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको पहले अपना फोन नंबर आधार कार्ड से लिंक करना होगा। कोविद 19 के डेटा मैनेजमेंट और एम्पावर्ड ग्रुप ऑफ टेक्नोलॉजी के चेयरमैन आरएस शर्मा ने कहा है कि कौन कब, कौन और किससे जुड़ा हुआ है, इसके डिजिटल रिकॉर्ड के लिए आधार जरूरी है। शर्मा ने कहा है कि हम पहले ही ऐसा कर चुके हैं। वहीं, आधार कार्ड बनाते समय भी ऐसा किया गया है। आपका डेटा बिलकुल सुरक्षित रहेगा। हम दूसरे तरीके से भी पंजीकरण कर सकते हैं, लेकिन यहां आधार विकल्प सबसे सटीक और बड़ा है। ये भी देखे :- अब आप घर बैठे ही कुछ मिनटों में अपना राशन कार्ड (Ration card ) बनवा सकते हैं, यह पूरी प्रक्रिया है

Co-Win एप पर नजर रखी जाएगी

सरकार ने टीकाकरण के भंडारण की निगरानी करने, टीकाकरण की पूरी प्रक्रिया की निगरानी करने, टीकाकरण के लिए पंजीकरण कराने वाले लोगों पर नज़र रखने या पहला शॉट लेने के लिए एक को-विन ऐप बनाया है। यह ऐप एक डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म है जिसे मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है।

Co-Win में 5 मॉड्यूल हैं

सह-विन ऐप के साथ, टीकाकरण प्रक्रिया प्रशासनिक गतिविधियों, टीकाकरण कर्मियों और टीकाकरण करने वाले लोगों के लिए एक मंच के रूप में कार्य करेगी। काउइन ऐप में 5 मॉड्यूल हैं। पहला प्रशासनिक मॉड्यूल, दूसरा पंजीकरण मॉड्यूल, तीसरा टीकाकरण मॉड्यूल, चौथा लाभ अनुमोदन मॉड्यूल और पांचवां रिपोर्ट मॉड्यूल।   ये भी देखे ;- बिहार में निर्णय, नेताओं और अधिकारियों द्वारा सोशल मीडिया ( social media)  पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी पर सख्त कार्रवाई होगी

अस्थायी प्रमाणपत्र देने के नियम शुरू हुए

कोरोना वैक्सीन  (Corona vaccine)  टीकाकरण को बढ़ावा देने के लिए, पहली खुराक के बाद अस्थायी प्रमाण पत्र प्रदान करने के लिए एक नियम पेश किया गया है। इसके तहत अब तक 8 लाख स्वास्थ्य कर्मचारियों को यह प्रमाणपत्र दिया जा चुका है। Co-Win वेबसाइट से भेजा गया सर्टिफिकेट पूरी तरह से QR कोड से लैस है।

इस सर्टिफिकेट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो के साथ कोरोना को हराने का मूल मंत्र भी लिखा गया है ‘दैव बही और कढाई’। क्यूआर कोड वाला यह प्रमाणपत्र 28 दिनों के लिए अनिवार्य कर दिया गया है। कोरोना वैक्सीन की दूसरी खुराक लेने के बाद, एक दूसरा प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा, जिसमें लाभार्थी की एक तस्वीर होगी। बता दें कि 16 जनवरी से शुरू हुए इस टीकाकरण अभियान में बहुत से लोगों ने हिस्सा लिया है। ये भी देखे :– ट्विटर (Twitter) आज से शुरू कर रहा है, सत्यापित ब्लू टिक देने की प्रक्रिया , इस तरह से लागू करें

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments