Cheque Book

इन 8 बैंकों के ग्राहक सावधान हो जाएं! आज ही नया चेक बुक (Cheque Book) लें, नहीं तो आप 1 अप्रैल से पैसे नहीं निकाल पाएंगे

इन 8 बैंकों के ग्राहक सावधान हो जाएं! आज ही नया चेक बुक (Cheque Book) लें, नहीं तो आप 1 अप्रैल से पैसे नहीं निकाल पाएंगे

यदि आपका खाता उन 8 सरकारी बैंकों में है जिनका अन्य सरकारी बैंकों में विलय कर दिया गया है, तो तुरंत सतर्क हो जाएं। क्योंकि 1 अप्रैल 2021 से इन आठ बैंकों के ग्राहकों की पुरानी चेकबुक, पासबुक और IFSC कोड अमान्य हो जाएंगे।

बैंक ग्राहक चेक बुक अमान्य: यदि आपका खाता उन 8 सरकारी बैंकों में है जिनका अन्य सरकारी बैंकों में विलय कर दिया गया है, तो तुरंत सतर्क हो जाएं। क्योंकि 1 अप्रैल 2021 से इन आठ बैंकों के ग्राहकों की पुरानी चेकबुक, पासबुक और IFSC कोड अमान्य हो जाएंगे। मतलब आपको पैसे का लेन-देन करना मुश्किल हो सकता है, क्योंकि आपकी चेकबुक सिर्फ एक कागज का टुकड़ा होगी, न तो पैसे निकाल सकते हैं और न ही इससे जमा कर सकते हैं।

ये भी देखे:- हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer) कोरोना की जगह फैल रहा कैंसर, सैनिटाइजर में मिला खतरनाक केमिकल्‍स

बैंक में जाएं और नई चेकबुक के लिए आवेदन करें

यदि आपका खाता भी इन 8 राज्य के स्वामित्व वाले बैंकों में है, तो हम आपको इस काम को तुरंत करने जा रहे हैं क्योंकि केवल आज और सोमवार को बैंक काम करेंगे। इसके बाद होली की छुट्टी शुरू हो जाएगी। तो आज ही अपने बैंक की शाखा में जाएं और एक नई चेकबुक के लिए हमसे संपर्क करें और एक आवेदन दें। यदि आप अभी चेक बुक के लिए आवेदन करते हैं, तो आपको 8-10 दिनों के बाद एक नई चेक बुक मिलेगी।

इन बैंकों का विलय हो गया है

आइए आपको बताते हैं कि सरकार के विलय वाले 8 बैंकों में कौन-कौन हैं। ताकि आप जान सकें कि किस बैंक में जाना है।
1. देना बैंक और विजया बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय कर दिया गया था। यह 1 अप्रैल 2019 से प्रभावी हो गया है।
2. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में विलय हो गए।
3. सिंडिकेट बैंक (Syndicate Bank) का केनरा बैंक (Canara Bank) में विलय कर दिया गया है।
4. आंध्रा बैंक (Andhra Bank) और कॉर्पोरेशन बैंक (Corporation Bank) का यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India) में विलय हो गया है।
5. इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) का भारतीय बैंक (Indian Bank) में विलय कर दिया गया है। 1 अप्रैल 2020 से लागू हो गया है।

इन बैंकों के ग्राहकों को किसी भी हाल में 1 अप्रैल 2021 से नई चेक बुक लेनी होगी। हालांकि, सिंडिकेट और केनरा बैंक के ग्राहकों के मामले में कुछ राहत मिली है। सिंडिकेट बैंक की मौजूदा चेकबुक 30 जून 2021 तक मान्य होगी। उसके बाद एक नई चेक बुक लेनी होगी।

ये भी देखे:- उपयोगकर्ताओं को राहत! WhatsApp की Privacy Policy पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है, होगी डिटेल्स में जांच

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *