Friday, February 23, 2024
a

HomeदेशGujarat की साबरमती नदी में मिला COVID-19 वायरस, जांच में मिले सभी...

Gujarat की साबरमती नदी में मिला COVID-19 वायरस, जांच में मिले सभी सैंपल संक्रमित

Gujarat की साबरमती नदी में मिला COVID-19 वायरस, जांच में मिले सभी सैंपल संक्रमित

हर नए दिन के साथ कोरोना को लेकर कोई न कोई नया खुलासा हो रहा है. अब ऐसा ही एक मामला Gujarat  से सामने आया है, जहां की सबसे महत्वपूर्ण नदी साबरमती में कोरोना वायरस पाया गया है.

कोरोना वायरस की दूसरी लहर का असर अब धीरे-धीरे कम हो रहा है, लेकिन संकट अभी पूरी तरह टला नहीं है. हर नए दिन के साथ कोरोना को लेकर कोई न कोई नया खुलासा हो रहा है. अब ऐसा ही एक मामला गुजरात से सामने आया है, जहां की सबसे महत्वपूर्ण नदी साबरमती में कोरोना वायरस पाया गया है.

गुजरात के अहमदाबाद के बीचों-बीच साबरमती के पानी के नमूने लिए गए, जिसमें सभी में कोरोना संक्रमण पाया गया है.

इतना ही नहीं अहमदाबाद के दो बड़े तालाबों (कांकारिया, चंदोला) में भी साबरमती नदी के अलावा कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं. आपको बता दें कि साबरमती से पहले गंगा नदी से जुड़े अलग-अलग सीवेज में भी कोरोना वायरस पाया जाता था, लेकिन अब इस तरह प्राकृतिक जल में कोरोना के लक्षण मिलने से चिंता बढ़ गई है.

ये भी देखे:- पत्नी से डरता है ये शख्स, चाकू निकालकर दिल निकालने के पीछे पड़ी है. सोशल मीडिया (Social Media) साइट इंस्टाग्राम

दरअसल, आईआईटी गांधीनगर ने अहमदाबाद (Gujarat) में साबरमती नदी से पानी के नमूने लिए थे। इनका अध्ययन किया गया, प्रोफेसर मनीष कुमार के अनुसार जांच के दौरान पानी के नमूने से कोरोना वायरस की उपस्थिति का पता चला है जो बहुत खतरनाक है.

हर हफ्ते लिए गए सैंपल 

इस शोध को लेकर आईआईटी गांधीनगर के पृथ्वी एवं विज्ञान विभाग के प्रोफेसर मनीष कुमार ने बताया कि 3 सितंबर से 29 दिसंबर 2020 तक हर हफ्ते नदी से पानी के ये नमूने लिए गए. सैंपल लेने के बाद इसकी जांच की गई और इसमें बैक्टीरिया के संक्रमित होने की जांच की गई. कोरोना वायरस पाए गए।

मनीष कुमार के अनुसार साबरमती नदी से 694, कांकरिया तालाब से 549 और चंदोला तालाब से 402 नमूने लिए गए. इन सैंपलों में ही कोरोना वायरस पाया गया है।

ये भी देखे:- LPG Booking Discount: Paytm से सिलेंडर बुकिंग पर मिल रहा है 800 रुपये तक का कैशबैक, 30 जून तक है ऑफर, ये है तरीका

शोध में माना जा रहा है कि यह वायरस प्राकृतिक जल में भी जीवित रह सकता है। इसलिए शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि देश के सभी प्राकृतिक जल स्रोतों की जांच होनी चाहिए, क्योंकि कोरोना की दूसरी लहर में भी वायरस के कई गंभीर म्यूटेशन देखने को मिले हैं.

ये भी पढ़े:- आपके खाते में LPG Subsidy आ रही है या नहीं? घर बैठे मिनटों में ऐसे चेक करें

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments