Wednesday, April 24, 2024
a

HomeदेशCM Yogi का बड़ा फैसला, अपराधियों के सड़कों पर पोस्टर लगाए जाएंगे...

CM Yogi का बड़ा फैसला, अपराधियों के सड़कों पर पोस्टर लगाए जाएंगे जो छेड़छाड़ और बलात्कार करते हैं

CM Yogi का बड़ा फैसला, अपराधियों के सड़कों पर पोस्टर लगाए जाएंगे जो छेड़छाड़ और बलात्कार करते हैं

Aawaz India News Desk :- यूपी की योगी सरकार महिला अपराध को लेकर और सख्त हो गई है। इसमें उन लोगों की भागीदारी होगी जो राज्य में महिलाओं के खिलाफ अपराध करते हैं। सरकार दुष्कर्मियों और अपराधियों के खिलाफ ऑपरेशन मिसमैडमोर चलाएगी। इसने ऐसे अपराधियों की पोस्टिंग का आदेश दिया है। योगी ने कहा कि महिलाओं के साथ कोई आपराधिक घटना होने पर संबंधित बीट इंचार्ज, चौकी प्रभारी, थाना प्रभारी और सीओ जिम्मेदार होंगे।

सीएम योगी ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ किसी भी तरह का अपराध करने वाले अपराधियों को केवल महिला पुलिसकर्मियों को ही सजा मिलनी चाहिए। साथ ही ऐसे अपराधियों और दुष्कर्मियों के मददगारों के नाम का खुलासा करने का आदेश दिया।

CM Yogi
file photo CM Yogi

ये भी देखे :- BIG NEWS : भारतीय पासपोर्ट धारक 16 देशों में बिना वीजा के प्रवेश कर सकते हैं: सरकार

सीएम योगी ने कहा कि महिलाओं और लड़कियों के साथ किसी भी तरह की घटना के अपराधी समाज में जाएं, इसलिए चौराहों पर ऐसे अपराधियों के पोस्टर लगाएं।

पोस्टर हिंसा पर लगाए गए थे

इससे पहले, योगी सरकार ने सीएए को लेकर 19 दिसंबर को लखनऊ में आयोजित एक प्रदर्शन में, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों के नाम और पते के साथ तस्वीरें, पोस्टर लगाए थे। एक नोटिस दिया गया था कि अगर इन लोगों ने समय पर जुर्माना नहीं भरा, तो उन्हें संलग्न किया जाएगा।

राज्य सरकार ने बदमाशों को मुआवजा दिलाने की बात कही थी। इसके बाद, पुलिस ने फोटो-वीडियो के आधार पर 150 से अधिक लोगों को नोटिस भेजे। जांच के बाद मिले सबूतों के आधार पर, 57 लोगों को प्रशासन द्वारा सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का दोषी पाया गया।

ये भी देखें:- Modi Governmen किसानों को 2000 रुपये दे रही है, इस तरह से आवेदन करें

मामला कोर्ट में पहुंचा

मामला पोस्ट करने के बाद मामला हाईकोर्ट पहुंचा। इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश गोविंद माथुर और न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा की विशेष पीठ ने लखनऊ के डीएम और पुलिस आयुक्त को आदेश दिया कि बिना किसी देरी के सीएए के खिलाफ उपद्रवियों के पोस्टर हटाए जाएं।

ये भी देखे :- 2024 में इंसान फिर से चाँद पर आएगा, US Government ने $ 28 बिलियन की मंजूरी दी

विशेष पीठ ने 14-पृष्ठ के फैसले में राज्य सरकार की कार्रवाई को संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत निजता के अधिकार (मौलिक अधिकार) के विपरीत करार दिया। अदालत ने कहा कि मौलिक अधिकारों को नहीं छीना जा सकता है। ऐसा कोई कानून नहीं है जो पोस्टर-बैनर लगाकर अभियुक्तों की सार्वजनिक जानकारी को सार्वजनिक करने की अनुमति देता है।

इसके बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments