Google Chrome

Google Chrome में परिवर्तन कम डेटा खपत और वीडियो की क्वालिटी भी बदल जाएगी

Google Chrome में परिवर्तन कम डेटा खपत और वीडियो की क्वालिटी भी बदल जाएगी

Google Chrome को सबसे लोकप्रिय ब्राउज़र माना जाता है। इसमें लगातार नए बदलाव हो रहे हैं। गूगल क्रोम (Google Chrome) एक नया बदलाव लाया है जो लोगों के लिए बहुत फायदेमंद होगा। इस नए अपडेट में आपको बेहतर वीडियो क्वालिटी तो मिलेगी ही साथ ही आपके डेटा की खपत भी कम हो जाएगी।

Google Chrome को सबसे लोकप्रिय ब्राउज़र माना जाता है। इसमें लगातार नए बदलाव हो रहे हैं। गूगल क्रोम (Google Chrome) एक नया बदलाव लाया है जो लोगों के लिए बहुत फायदेमंद होगा। इस नए अपडेट में आपको बेहतर वीडियो क्वालिटी तो मिलेगी ही साथ ही आपके डेटा की खपत भी कम हो जाएगी। साथ ही आप इंटरनेट की धीमी स्पीड में भी बेहतर काम कर पाएंगे।

वीडियो तेजी से अपलोड होंगे

अब आप अपने मोबाइल पर आसानी से वीडियो देख पाएंगे। साथ ही इसे लोड होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। इसके अलावा आप तेजी से फाइल अपलोड कर पाएंगे। Google उपयोगकर्ताओं को यहां क्रोम 90 पर डायरेक्ट कॉपी और पेस्ट का विकल्प देता है।

ये भी देखे:- PNB अपने लाखों ग्राहकों को विशेष सुविधा दे रहा है, अब घर से मिनटों में सभी काम निपट जाएंगे

वीडियो की गुणवत्ता बेहतर होगी

अपडेट के बाद यूजर्स को वीडियो कॉलिंग की बेहतर क्वालिटी पहले से बेहतर मिलेगी। इसके अलावा, उपयोगकर्ताओं को पीडीएफ एक्सएफए का अच्छा समर्थन भी मिलेगा। इस अपडेट में, उपयोगकर्ताओं को पहले की तुलना में अधिक सुरक्षा मिलेगी। इसमें स्क्रीन शेयरिंग पहले से बेहतर होगी। अगर आप अपने स्मार्टफोन के हॉटस्पॉट से इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और इसे लैपटॉप में ले जाते हैं, तो वीडियो कॉलिंग की गुणवत्ता बेहतर होगी। इसके अलावा स्क्रीन शेयरिंग भी पहले की तुलना में स्मूथ होगी।

डेटा की बचत

क्रोम 90 नए कोडेक्स के साथ आता है जो बेहतर संपीड़न देते हैं। यह यूजर को बेहतर वीडियो क्वालिटी देता है और डेटा भी बचाता है।

ये भी देखे:- Post Office की इस स्कीम में 10 हजार लगाकर आप 16 लाख से ज्यादा पा सकते हैं, जानिए कैसे करें निवेश

अब आपको फ्लोक मिलेगा

FloC का मतलब फेडरेटेड लर्निंग ऑफ कोहॉर्ट्स से है जो तीसरे पक्ष के कुकीज़ को विज्ञापन दिखाने से रोकेगा। अब विज्ञापनदाता डिजिटल एड्स के लिए विज्ञापन नहीं बनाएंगे, बल्कि फ़्लॉकेज़ 1000 लोगों का एक समूह बनाएंगे, जिसमें वही विज्ञापन उनकी पसंद के अनुसार दिखाए जाएंगे।

HTTPS का उपयोग किया जाएगा

इस सुविधा में, यदि उपयोगकर्ता Chrome 90 पर एक वेबसाइट खोलता है, तो Chrome 90 स्वचालित HTTPS संस्करण उत्पन्न करेगा जो पुराने HTTP संस्करण की तुलना में अधिक सुरक्षित और तेज़ होगा। इसके इस्तेमाल से वेबसाइट तेजी से खुलेगी। पहले Google ने कम सुरक्षित HTTP संस्करण शुरू किया और फिर HTTPS में जाने का अनुरोध किया।

ये भी देखे :- Sukanya Samriddhi Yojana अगर आप रोजाना 131 रुपये बचाते हैं, तो आपको 20 लाख रुपये मिलेंगे! बेटी की किस्मत बच जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *