C.M Bhupesh Baghel

महादान के लोक पर्व छेरछेरा पुन्नी पर C.M Bhupesh Baghel निकले दान मांगने

महादान के लोक पर्व छेरछेरा पुन्नी पर C.M Bhupesh Baghel  निकले दान मांगने 

  •  कांकेर प्रवास के दौरान दुकानों और घरों में जाकर श्री भूपेश बघेल ने मांगा दान
  • नागरिकों को दी छेरछेरा पुन्नी पर्व की शुभकामनाएं
  • मुख्यमंत्री को धान से तौला गया

NEWS DESK :- C.M Bhupesh Baghel ने छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध लोक पर्व छेरछेरा पुन्नी पर्व परम्परा के अनुरूप आज सवेरे जिला मुख्यालय कांकेर के पुराने बस स्टेण्ड में मुख्य मार्ग की दुकानों और घरों में जाकर छेरछेरा पुन्नी का दान मांगा। महिलाओं ने तिलक लगाकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया और उन्हें चावल, लड्डू, फल भेंट किए। छेरछेरा पर्व पर मुख्यमंत्री को धान से तौला गया।

file photo by pro cg

C.M Bhupesh Baghel ने इस अवसर पर सभी लोगों को छेरछेरा पर्व की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नई फसल के घर आने की खुशी में महादान का यह उत्सव पौष मास की पूर्णिमा को छेरछेरा पुन्नी तिहार के रूप में मनाया जाता है। C.M Bhupesh Baghel  ने कहा कि छेरछेरा पुन्नी पर बच्चों, युवाओं, किसानों, मजदूरों और महिलाओं की टोली घर-घर जाकर छेरछेरा पुन्नी का दान मांगते हैं। इस पर्व में समानता का भाव प्रमुखता से उभर कर सामने आता है। धनी और गरीब व्यक्ति एक दूसरे के घर दान मांगने जाते हैं और दान में एकत्र धान, राशि और सामग्री गांवों में रचनात्मक कार्यों में लगाई जाती है।

ये भी देखे :- सोनू सूद हुए  Mi India के ShikshaHarHaath अभियान में शामिल 

उन्होंने कहा कि छेरछेरा के महादान की परम्परा की यह भावना है कि किसानों द्वारा उत्पादित फसल केवल उसके लिए नहीं अपितु समाज के अभावग्रस्त और जरूरतमंद लोगों, कामगारों और पशु-पक्षियों के लिए भी काम आती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष अनेक चुनौतियों के बावजूद राज्य सरकार द्वारा अब तक 89 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। इस वर्ष धान खरीदी का एक नया रिकार्ड बनेगा।

file photo by pro cg

C.M Bhupesh Baghel और अतिथियों ने लोगों को शुभकामनाएं देते हुए ‘छेरछेरा, कोठी के धान ल हेरहेरा‘ का घोष किया। इस अवसर पर ग्रामोद्योग और कांकेर जिले के प्रभारी मंत्री श्री गुरू रूद्र कुमार, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, विधानसभा उपाध्यक्ष श्री मनोज मण्डावी, संसदीय सचिव श्री शिशुपाल सोरी, विधायक श्री मोहन मरकाम और श्री संतराम नेताम तथाC.M Bhupesh Baghel के सलाहकार श्री राजेश तिवारी भी उपस्थित थे।

ये भी देखे :- किसान आंदोलन के बीच केंद्र सरकार का महत्वपूर्ण निर्णय, इस फसल के  MSP में वृद्धि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *