Railway

Railway यात्रियों को बड़ी राहत: कोरोना से पहले की तरह सामान्य तरीके से चलेंगी सभी स्पेशल ट्रेनें, 30 फीसदी कम होगा किराया

Railway यात्रियों को बड़ी राहत: कोरोना से पहले की तरह सामान्य तरीके से चलेंगी सभी स्पेशल ट्रेनें, 30 फीसदी कम होगा किराया

कोरोना काल में स्पेशल टैग के कारण बढ़े हुए किराए के साथ चलने वाली सभी ट्रेनें अब पुराने नाम और नंबर से चलेंगी. रेल मंत्रालय ने यात्रियों को बड़ी राहत देने का ऐलान किया है. मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना काल में जिन ट्रेनों को स्पेशल ट्रेनों में बदला गया था, वे अब पहले की तरह सामान्य रूप से चलेंगी. इससे इन ट्रेनों में लगने वाले स्पेशल चार्ज में कमी आएगी, जिससे किराए में करीब 30 फीसदी की कमी आएगी।

सर्कुलर जारी किया गया है

कोविड-19 के मामलों में कमी को देखते हुए रेल मंत्रालय (Railway) ने शुक्रवार की बैठक में प्री-कोविड (कोरोना से पहले) शेड्यूल के तहत ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू करने का फैसला किया. रेलवे बोर्ड ने भी स्पेशल ट्रेनों को पहले की तरह सामान्य रूप से संचालित करने के लिए सर्कुलर जारी किया है. सर्कुलर शुक्रवार देर शाम जारी किया गया।

यह भी पढ़े:- Tech News : Google पर इन 8 चीजों को खोजते समय सावधान रहें

इस सर्कुलर के मुताबिक नई गाइडलाइंस के साथ अब सभी ट्रेनों का संचालन सामान्य किराए के साथ किया जाएगा. रेलवे के एक अधिकारी के अनुसार, ऐसी ट्रेनों की दूसरी श्रेणी किसी भी छूट को छोड़कर आरक्षित के रूप में चलती रहेगी। इन स्पेशल ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को अब भी 30 फीसदी अतिरिक्त किराया देना होगा।

1700 ट्रेनों का परिचालन ठप

केंद्र सरकार ने पिछले साल मार्च में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए लॉकडाउन की घोषणा की थी. इससे पहले ट्रेनों का संचालन रोक दिया गया था। इससे करीब 1700 एक्सप्रेस ट्रेनें प्रभावित हुईं।

बाद में रेलवे (Railway) ने धीरे-धीरे फिर से ट्रेनों का परिचालन शुरू किया, लेकिन सभी ट्रेनें पूरे रिजर्वेशन के साथ स्पेशल टैग के साथ चल रही थीं. इन ट्रेनों में करीब 30 फीसदी अतिरिक्त किराया वसूला जा रहा था, जिसका असर आम यात्री की जेब पर पड़ रहा था.

यह भी पढ़े:- किसानों के लिए खुशखबरी: यूपी-पंजाब चुनाव से पहले PM kisan की किस्त हो सकती है दोगुनी, 2000 के बदले 4000 मिलेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *