कोरोना काल में फ्रॉड से बचें, मोबाइल कंपनियों के KYC के नाम पर ठग रहे है लोग

कोरोना काल में फ्रॉड से बचें, मोबाइल कंपनियों के KYC के नाम पर ठग रहे है लोग 

कोरोना महामारी के इस दौर में ऑनलाइन फ्रॉड के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. केवाईसी कराने के नाम पर लोगों से ठगी की जा रही है। ऐसे में क्या आपके पास KYC के लिए कोई कॉल आया है?

कोरोना महामारी के इस दौर में ऑनलाइन फ्रॉड के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. केवाईसी कराने के नाम पर लोगों से ठगी की जा रही है। ऐसे में क्या आपके पास केवाईसी के लिए कोई कॉल आया है? या अतिरिक्त डाटा देने के नाम पर आपसे किसी ने आईडी नहीं मांगी?

टेलीकॉम कंपनियां कर रही हैं अलर्ट

टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर कंपनियां आपको कॉलिंग आदि की सुविधा देती हैं। इसके अलावा वे समय-समय पर अलर्ट भी करती रहती हैं। हाल ही में Vodafone और Jio ने भी अपने ग्राहकों को अलर्ट मैसेज जारी किया है और पहले ही चेतावनी दी है कि किस तरह के फ्रॉड किए जा रहे हैं और इससे बचने की जरूरत है। कंपनी की ओर से भेजे गए मैसेज में बताया गया है कि मैसेज किस संदर्भ में किए जा रहे हैं और इससे कैसे बचा जाए.

ये भी देखे:-  EPF: यदि आप अपना UAN भूल गए हैं, तो जानें कि यह कैसे पता करे

Vi ने भेजा यह अलर्ट

Vi ने अलर्ट संदेश जारी करते हुए कहा, ‘Vi ने निजी गोपनीय जानकारी मांगने वाले किसी भी ग्राहक को एसएमएस या कॉल नहीं किया है। ऐसे में धोखाधड़ी से सावधान रहें। वहीं सिम बदलने और दस्तावेज जमा करने के लिए अपने नजदीकी स्टोर पर जाएं। ‘इसलिए अगर आप कोई निजी दस्तावेज मांगते हैं तो उनसे बचें और अपनी निजी जानकारी किसी से साझा न करें।

किसी अनजान व्यक्ति के साथ व्यक्तिगत जानकारी साझा न करें

इंटरनेट बैंकिंग विवरण किसी भी समय किसी अज्ञात व्यक्ति को फोन, ईमेल या एसएमएस द्वारा साझा किया जाता है। टेक्स्ट मैसेज या व्हाट्सएप मैसेज में किसी भी संदिग्ध लिंक पर क्लिक न करें। अपनी व्यक्तिगत जानकारी किसी अन्य व्यक्ति से साझा न करें। खासकर किसी अनजान व्यक्ति से शेयर बिल्कुल भी न करें।

ये भी देखे:- Android Tips: फोन चार्ज करते समय न करें 5 गलतियां, हो सकता है बड़ा नुकसान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *