Tuesday, July 23, 2024
a

Homeदेशअर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) की रात हवालात में बीती: बॉम्बे हाईकोर्ट ने...

अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) की रात हवालात में बीती: बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत पर सुनवाई हो सकती है, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं

अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) की रात हवालात में बीती: बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत पर सुनवाई हो सकती है, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को बुधवार को रायगढ़ की स्थानीय अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। यानी अर्नब को 18 नवंबर तक जेल में ही रहना होगा। हालांकि, बुधवार को उन्हें जेल नहीं भेजा जा सका। अर्नब ने एक स्कूल में रात बिताई, जहां अलीबाग पुलिस स्टेशन में आरोपियों के लिए एक कोविद केंद्र स्थापित किया गया है।

अर्नब को मुंबई पुलिस ने बुधवार सुबह उनके घर से गिरफ्तार किया था। अर्नब ने बॉम्बे हाईकोर्ट में जमानत के लिए अर्जी दी, आज सुनवाई हो सकती है। अर्नब के वकील अबद पोंडा का कहना है कि हाईकोर्ट ने पुलिस से जवाब मांगा है।

ये भी पढ़े :- जावेद अख्तर (Javed Akhtar) ने कंगना रनौत के खिलाफ FIR दर्ज कराई, अभिनेत्री ने कहा – एक शेरनी थी और एक भेड़िया था …

अर्नब की गिरफ्तारी की वजह क्या है?

मुंबई में, इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुद ने मई 2018 में आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में अर्नब सहित 3 लोगों पर आरोप लगाया गया। सुसाइड नोट के अनुसार, अर्नब और अन्य आरोपियों ने नाइक को अलग प्रोजेक्ट के लिए डिजाइनर के रूप में काम पर रखा था, लेकिन लगभग 40-2 करोड़ रुपये का भुगतान नहीं किया। इससे अन्वेय की आर्थिक स्थिति खराब हो गई और उसने आत्महत्या कर ली।

अन्वय की पत्नी ने कहा – सुशांत मामले में एक सुसाइड नोट भी नहीं था, लेकिन मेरे पति के मामले में ऐसा है
अर्नब की गिरफ्तारी के बाद, अन्वय की पत्नी अक्षता ने कहा, “मुझे नहीं पता कि 2018 के बाद 2 साल तक कार्रवाई क्यों नहीं की गई? मैंने अपने पति को खो दिया है।

अगर उन्हें अर्नब से बकाया पैसे मिलते थे और अन्य 2 आरोपी थे, तो आज। मेरे सास-ससुर जिंदा होंगे। सुशांत मामले में भी कोई सुसाइड नोट नहीं था, फिर भी जांच हुई, लेकिन मेरे पति के मामले में एक सुसाइड नोट भी है। कार्रवाई होने के बाद हमें न्याय मिलने की उम्मीद है। अब महाराष्ट्र पुलिस द्वारा। ”

ये वही देखे : अपनी पत्नी के ATM कार्ड का उपयोग करने से पहले सावधान रहें, जानिए ये महत्वपूर्ण नियम

गिरफ्तारी के बाद अर्नब के खिलाफ एक और एफआईआर

अर्नब के खिलाफ उनकी गिरफ्तारी के 12 घंटे के भीतर दूसरा मुकदमा दायर किया गया था। मुंबई के एनएम जोशी पुलिस स्टेशन में धारा 353 के तहत एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, अर्नब पर महिला पुलिसकर्मी के साथ मारपीट करने का आरोप है। बताया जा रहा है कि जब पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए अर्णब के घर पहुंची, तो उसने पुलिसकर्मी से हाथापाई की।

ये भी देखे :- ‘Baba Ka Dhaba’ के मालिक ने YouTuber के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है जिसने इसे लोकप्रिय बनाया है, जानिए क्या है मामला

Ashish Tiwari
Ashish Tiwarihttp://ainrajasthan.com
आवाज इंडिया न्यूज चैनल की शुरुआत 14 मई 2018 को श्री आशीष तिवारी द्वारा की गई थी। आवाज इंडिया न्यूज चैनल कम समय में देश में मुकाम हासिल कर चुका है। आज आवाज इन्डिया देश के 14 प्रदेशों में अपने 700 से ज्यादा सदस्यों के साथ बेहद जिम्मेदारी और निष्ठापूर्ण तरीके से कार्यरत है। जिन राज्यों में आवाज इंडिया न्यूज चैनल काम कर रहा है वह इस प्रकार हैं राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश, केरला, ओड़िशा और तेलंगाना। आवाज इंडिया न्यूज चैनल के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री आशीष तिवारी और डॉयरेक्टर श्रीमति सुरभि तिवारी हैं। श्री आशिष तिवारी ने राजस्थान यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र मे पोस्ट ग्रेजुएशन किया और पिछले 30 साल से न्यूज मीडिया इन्डस्ट्री से जुड़े हुए हैं। इस कार्यकाल में उन्हों ने देश की बड़ी बड़ी न्यूज एजेन्सीज और न्युज चैनल्स के साथ एक प्रभावी सदस्य की हैसियत से काम किया। अपने करियर के इस सफल और अदभुत तजुर्बे के आधार पर उन्होंने आवाज इंडिया न्यूज चैनल की नींव रखी और दो साल के कम समय में ही वह अपने चैनल के लिये न्यूज इन्डस्ट्री में एक अलग मकाम बनाने में कामयाब हुए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments