subsidy

नौकरी के तनाव के बारे में भूल जाओ ! 50 हजार में शुरू करें यह कारोबार, मासिक कमाएगा 1 लाख, सरकार देगी 35 फीसदी subsidy

नौकरी के तनाव के बारे में भूल जाओ ! 50 हजार में शुरू करें यह कारोबार, मासिक कमाएगा 1 लाख, सरकार देगी 35 फीसदी subsidy

अगर आप भी कोई ऐसा बिजनेस करने की योजना बना रहे हैं जो हर समय लाभदायक हो तो आज हम आपको एक ऐसे बिजनेस आइडिया के बारे में बता रहे हैं जिसमें आपको काफी मुनाफा होगा।

अगर आप व्यापार के लिए कृषि क्षेत्र में अपनी किस्मत आजमाना चाहते हैं तो मौसमी खेती के अलावा भी कई विकल्प हैं जो आपको मुनाफे की गारंटी देते हैं। इन्हीं में से एक है मुर्गी पालन का व्यवसाय (subsidy)। अगर आप छोटे पैमाने पर पोल्ट्री फार्म शुरू करना चाहते हैं तो कम से कम 50,000 रुपये से 1.5 लाख रुपये के बीच खर्च होंगे। अगर आप छोटे स्तर यानि 1500 मुर्गियों से लेयर फार्मिंग शुरू करते हैं तो आप 50 हजार से लेकर 1 लाख रुपए प्रति माह तक कमा सकते हैं।

यह भी पढ़े :-  Raipur – छत्तीसगढ़ गोबर खरीदने वाला और गोबर खरीदी को लाभ में बदलने वाला पहला राज्य : Bhupesh Baghel

सबसे पहले आती है पैसों की बात

अगर आप छोटे पैमाने पर पोल्ट्री फार्म शुरू करना चाहते हैं तो कम से कम 50,000 रुपये से 1.5 लाख रुपये के बीच खर्च होंगे। और अगर आप इस बिजनेस को किसी बड़े स्टार पर स्थापित करने की सोच रहे हैं तो इसकी कीमत 1.5 लाख रुपये से 3.5 लाख रुपये के बीच है। पोल्ट्री व्यवसाय शुरू करने के लिए कई वित्तीय संस्थानों से बिजनेस (subsidy)लोन लिया जा सकता है।

35 फीसदी सब्सिडी देगी सरकार-

पोल्ट्री फार्म व्यवसाय ऋण पर सब्सिडी (subsidy) लगभग 25 प्रतिशत है। वहीं, एससी-एसटी वर्ग को प्रोत्साहित करने के लिए यह सब्सिडी 35 प्रतिशत तक हो सकती है। आपको बता दें कि इस व्यवसाय की विशेषता यह है कि इसमें कुछ राशि का निवेश करना होता है और बाकी को बैंक से ऋण मिल जाता है।

यह भी पढ़े :- दुल्हन जब ससुराल पहुंची तो दूल्हे ने गुस्से से कहा, यह सुनकर भाभी ने जमकर मांग की; Video देखें

इस तरह करें बिजनेस प्लान

आमदनी अच्छी हो सकती है, लेकिन इस व्यवसाय में हाथ आजमाने से पहले उचित प्रशिक्षण लेना आवश्यक है। 1500 मुर्गियों के लक्ष्य से काम शुरू करना है तो 10 प्रतिशत अधिक मुर्गियां खरीदनी होंगी। क्योंकि असामयिक बीमारी के कारण मुर्गियों की मौत का खतरा रहता है।

अंडे से भी होगी जबरदस्त कमाई-
देश में अंडे के दाम बढ़ने लगे हैं. अक्टूबर की शुरुआत से अंडा 7 रुपये में बिक रहा है। लेकिन हैरान करने वाली बात यह है कि अंडे के दाम बढ़ने के साथ चिकन भी कीमती हो गया है.

मुर्गियां खरीदने का है बजट 50 हजार रुपये-
एक लेयर पैरेंट बर्थ की कीमत करीब 30 से 35 रुपये है। यानी चिकन खरीदने के लिए 50 हजार रुपये का बजट रखना होगा। अब उन्हें पालने के लिए अलग-अलग तरह का खाना खिलाना पड़ता है और दवाओं पर भी खर्च करना पड़ता है।

यह भी पढ़े :- 6 लाख रुपए से भी सस्ती है इस कार (Car) का जादू, 30 दिनों में पूरा देश हुआ दीवाना

20 हफ्ते का खर्च 3-4 लाख रुपये-
लगातार 20 हफ्तों तक मुर्गियों को खिलाने का खर्चा करीब 1 से 1.5 लाख रुपये होगा। एक परतदार जनक पक्षी एक वर्ष में लगभग 300 अंडे देता है। 20 सप्ताह के बाद, मुर्गियाँ अंडे देना शुरू कर देती हैं और एक साल तक अंडे देती हैं। 20 हफ्ते के बाद उनके खाने-पीने पर करीब 3 से 4 लाख रुपये खर्च हो जाते हैं.

सालाना 14 लाख रुपये से ज्यादा की कमाई-
ऐसे में प्रति वर्ष औसतन 290 अंडों से 1500 मुर्गियों से लगभग 4,35,000 अंडे प्राप्त होते हैं। बर्बाद होने के बाद भी अगर 4 लाख अंडे बेचे जा सकते हैं तो एक अंडा थोक भाव में 6.00 रुपये के भाव से बेचा जाता है. यानी आप एक साल में सिर्फ अंडे बेचकर अच्छी खासी कमाई (subsidy)कर सकते हैं.

यह भी पढ़े :- तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए गहलोत सरकार (Gehlot government) ने लगाई कई पाबंदियां, जानें पूरी गाइडलाइंस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *